देश में दिव्यांगों की संख्या 2.68 करोड़, पांच फीसदी मानसिक रोगी:  गहलोत

भोपाल: केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत ने कहा है कि देश में कुल दिव्यांगों में से पांच फीसदी दिव्यांग मानसिक रोगी हैं। केंद्र सरकार ने इन रोगियों को अलग-अलग श्रेणियों में रखा है।

गहलोत ने यहां एक होटल में शुक्रवार को संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा कि देश में दिव्यांगों की संख्या 2.68 करोड़ है, इनमें से लगभग पांच फीसदी मानसिक रोगी हैं, जो अलग-अलग श्रेणी के हैं। इन रोगियों की श्रेणी का निर्धारण चिकित्सकों के सर्वेक्षण से हुआ है।

 गहलोत ने एक सवाल के जवाब में बताया कि उनके विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ लेने के मामले में आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल जैसे राज्य अव्वल रहे है, जहां तक मध्य प्रदेश की बात है तो वह पहले पांच राज्यों में रहा है। दिव्यांगों से जुड़े उपकरणों के निर्माण के लिए विभिन्न राज्यों से भूमि मांगी गई, जिन राज्यों ने उपलब्ध कराई है, वहां यह संस्थान बनाए जा रहे हैं।

सामाजिक न्याय मंत्री ने कहा कि डॉ. भीमराव अंबेडकर से संबंधित स्थलों का कायाकल्प किया जा रहा है, नरेंद्र मोदी देश के ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो विकास कार्यो का भूमिपूजन कर रहे हैं और वहीं उनका लोकार्पण कर रहे हैं। इस मौके पर भोपाल के सांसद आलोक संजर भी मौजूद थे।

Related Articles