चालू वित्त वर्ष में ईपीएफओ से जुडे 20 लाख नए अंशधारक

 

रोजगार मंत्रालयनयी दिल्ली: चालू वित्त वर्ष में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन- ईपीएफओ से लगभग 20 लाख अंशधारक जुडे हैं.

केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्रालय ने मंगलवार को जारी आंकड़ों में बताया कि अप्रैल से अगस्त 2020 की अवधि में ईपीएफओ की भविष्य निधि से तकरीबन 20 लाख नए अंशधारक जोड़े गए हैं.

मंत्रालय ने कहा है कि पिछले पांच महीनों के दौरान कोरोना महामारी के कारण देश भर में औद्योगिक संस्थान बंद रहे हैं और उनके कामकाज पर काफी बुरा असर पड़ा है. हालांकि जुलाई और अगस्त के रोजगार संबंधित आंकड़ों संकेत मिलता है कि लॉकडाउन का असर कम हो रहा है और औद्योगिक गतिविधियां शुरू होने से लोगों को रोजगार मिल रहा है.

आंकड़ों के अनुसार जुलाई 2020 में ईपीएफओ की भविष्य निधि में सात लाख 49 हजार अंशधारक जोड़े गए है. अगस्त 2020 में यह संख्या 10 लाख छह हजार अंशधारक रही है.

आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, कर्नाटक और हरियाणा में सबसे अधिक कर्मचारी ईपीएफओ की भविष्य निधि में शामिल हुए हैं. इस अवधि में लोगों को विशेषज्ञ सेवा क्षेत्र, निजी सुरक्षा एजेंसियां और छोटे ठेकेदारों के पास काम मिला है.

यह भी पढ़े: शिखर ने पूरे किये आईपीएल में 5000 रन, ये कारनामा करने वाले पांचवे बल्लेबाज

Related Articles