#2016 वृश्चिक राशि के लिए कठिनता भरा होगा समय

scorवृश्चिक अर्थात स्कार्पियो दक्षिण दिशा की ओर संकेत देती है। आपके राशि के स्वामी मंगल अग्नि और रक्त पर आधिपत्य रखते हैं। वर्ष2016 के पहले दिन आपके राशि स्वामी मंगल शुक्र की राशि तुला में विराजमान रहेंगे। 2016 के प्रारंभ से ही शनि आपकी राशि में विराजमान हैं व गुरू आपकी राशि से दसवें भाव सिंह में गोचर करेंगे। पूरे वर्ष शनि के लग्न में बैठने के कारण निर्णय क्षमता प्रभावित होगी। मानसिक तनाव रहेगा। आपकी वाणी अनियंत्रित रहेगी। यह वर्ष कुछ कठिनता भरा हो सकता है परन्तु यही समय अनुभव लेने का भी है। शिक्षा क्षेत्र में यह साल आपको मानसिक तनाव दे सकता है। वर्ष2016 में आप स्वयं को धर्म व अधर्म के बीच पाएंगे। आप अधर्म का मार्ग अपनाने में संकोच नहीं करेंगे। आइए विस्तार से जानते हैं की वर्ष 2016 में आपके जीवन के हर क्षेत्र पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

स्वास्थ्य: साल 2016 में शनि आपकी राशि पर चल रहा है। शनि की सातवीं दृष्टि आपके सप्तम भाव पर है परंतु गुरु व राहू की दृष्टि आपके छठे घर पर है। हालांकि इस साल कोई बड़ी शारीरिक परेशानी तो नहीं होगी लेकिन सुस्ती आने के कारण आपकी दिनचर्या प्रभावित हो सकती है। यदि आपको कोई व्यसन करने की आदत है तो इस समय उसके अधिकतम प्रभाव आपको मिलेंगे। शनि की शत्रु दृष्टि के कारण आप मानसिक तौर पर पीड़ित होंगे। स्वभाव चिड़चिड़ा हो सकता है, व्यसन को जितना जल्दी हो सके त्यागने का प्रयास करें। गुरु-राहू की दृष्टि के कारण लिवर व उदर संबंधित परेशानी हो सकती है। टांगों में दर्द की समस्या भी सता सकती है अतः इस साल हैल्थ को लेकर सावधान रहें।

फ़ैमिली: इस साल घर हेतु अनेको सुख-सुविधा के सामान जुटाने में झूझते रहेंगे, परंतु खर्चा सोच समझ कर करें अन्यथा क़र्ज़ लेने की नौबत आएगी। परिवार में भी अपनों से बड़ों के साथ विवाद से बचें। पारिवारिक सुख में भी कुछ कमी आ सकती है। लाइफ पार्टनर के साथ मेंटल टेंशन पैदा हो सकती हैं। बेहतर होगा हल्की बातों को नज़रंदाज़ करके घर में खुशनुमा माहौल बनाए रखें। अपनी व्यस्तता के कारण परिजनों को अनदेखा न करें। माता की हैल्थ का ख़याल रखें समय रहते जांच अवश्य करवाएं। वर्ष 2016 में संतान पक्ष से भी आपको तनाव मिलने की अधिक संभावनाएं हैं। 2016 में आपको लगातार कई उतार-चढ़ाव भी झेलने पड़ सकते हैं परंतु सितंबर से पारिवारिक संबंधों में मधुरता आएगी।

रुपया-पैसा: साल 2016 पैसों के मामले में आपके लिए समस्याएं उत्पन्न कर सकता है। धनेश गुरु की राहू के साथ युति आपकी राशि से दसवें भाव में हो रही है। राहू हमेशा बृहस्पति के साथ मिलक आर्थिक जीवन में उथल-पुथल मचा देता है परंतु राहू का दसवें भाव में आना उल्टे-सीधे कामों से पैसे की आमद के रास्ते भी खोल देता है। इस समय पर शेयर मार्केट या किसी प्रकार की दलाली बड़ा लाभ देने वाली सिद्ध होगी, अतः ऐसी जगह पर पैसा लगाएं जो आपको लाभान्वित करें परंतु इस साल अपनी सेविंग्स के प्रति पूरी सावधानी बरतें। सितंबर से समय आपके पक्ष में आ जाएगा तब आप किसी भी प्रकार का इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं,जिसमे शत-प्रतिशत लाभ होगा।

प्रोफेशन: साल 2016 प्रोफेशन के लिहाज से मिलाजुला रहेगा। राहू की बृहस्पति के साथ दसवें भाव में युति आपके लिए समस्याओं का कारण बन सकती है परंतु बिजनेस से इस साल आप अच्छे प्रोफिट की उम्मीद कर सकते हैं। 2016 में आपके कार्य करने की क्षमता बढेगी। आप अधिक से अधिक मेहनत करेंगे परंतु प्रोब्लेम्स हेतु जिम्मेदार आपका अहंकारापूर्ण रवैया रहेगा। अपने क्रोध पर काबू रखें वरना इसके गलत परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। किसी सीनियर के साथ झड़प होने की प्रबल संभावना है। अच्छे प्रोफिट्स के बावज़ूद भी इस साल सितंबर से पहले तक मुश्किलें बढ़ सकती हैं। बिजनेस पार्टनरस के साथ डिस्प्यूट हो सकता है और वे आपको धोखा भी दे सकते हैं।

रोमांस: साल 2016 में सितंबर महीने से आपके रोमांटिक रिलेशनशिप और फिजिकल रिलेशनशिप बेहतर रहेंगे परंतु सितंबर से पहले पार्टनर को समझने की कोशिश करें और सुझ-बूझ से काम लें। जून से जुलाई पार्टनर के साथ मतभेद बढ़ सकते हैं। ऐसे में पार्टनर से बात कर समस्या को सुलझाएं। चाहे जैसे भी हो एक दूज़े के बीच की दूरियों को ख़त्म करने की कोशिश करें। सितंबर से संबंधों में प्रगाढ़ता आएगी और यह आपको आत्मसंतुष्टि प्रदान करेगा। पार्टनर के साथ रोमांटिक रिलेशनशिप का भरपूर आनंद मिलेगा और फिजिकल रिलेशनशिप भी बेहतर बनेंगे। यह साल आपके धैर्य और साहस की परीक्षा लेगा अतः बहुत ही सोच समझ कर रिश्तों में फैसले लें।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button