नाग पंचमी से पहले ही श्री कृष्ण जन्मभूमि से जब्त किए गए 21 सांप

नई दिल्ली। अगले सप्ताह नाग पंचमी उत्सव से पहले वन विभाग के अधिकारियों ने यहां गत दो दिनों में श्री कृष्ण जन्मभूमि क्षेत्र में सपेरों से 21 सांप जब्त किए हैं। एक अधिकारी ने कहा, “इसके अलावा और सपेरों और शिकारियों पर नजर रखी जा रही है।” एक वन्यजीव कार्यकर्ता ने कहा, “जब्त 21 सांपों में से 14 कोबरा, चार रेट स्नैक, और तीन सैंड बो सांप हैं। इन सांपों के जहर के दांत और विष ग्रंथियों को निकाल लिया गया है।”इनका इलाज कर रहे पशुचिकित्सक अभी भी यह निर्णय नहीं कर पाए हैं कि इन्हें इनके प्राकृतिक पर्यावास में छोड़ा जाए या नहीं, क्योंकि वहां उनका जीवित रहना मुश्किल हो सकता है।

वन्यजीव एसओएस के सीईओ और सह संस्थापक कार्तिक सत्यनारायण ने कहा, “सांपों के काटने से बचाने के लिए सपेरे प्राय: सांपों के जहर के दांत और विष गंथियों को निकाल लेते हैं और यहां तक कि उनके मुंह को बंद कर देते हैं, जिसके परिणामस्वरूप वे खा नहीं पाते और धीरे-धीरे मौत की तरफ बढ़ने लगते हैं।”

उन्होंने कहा, “वन्यजीव सुरक्षा अधिनियम 1972 के अंतर्गत सांपों को पकड़ना, उनका मनोरंजन के लिए इस्तेमाल करना एक अपराध है।” विभागीय वन अधिकारी(मथुरा) अरविंद कुमार ने कहा, “यह निर्दयी और अमानवीय कार्य है, जिसके अंतर्गत निर्दोष वन्यजीवों का उत्पीड़न किया जाता है, जोकि भारतीय कानून के अंतर्गत संरक्षित हैं।”

Related Articles