स्कूल खुलते ही 262 छात्र और 160 टीचर हुए कोरोना संक्रमित

स्कूल शिक्षा आयुक्त वी. चिन्ना वीरभद्रदू ने कहा कि स्कूल आने वाले छात्रों की संख्या की तुलना में संक्रमित छात्रों का आंकड़ा चिंता की बात नहीं है।

नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश में स्कूल खुलने के बाद विद्यार्थियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।  यहां 2 नवंबर को स्कूल खोले गए थे।  तीन दिन के अंदर 262 छात्र और 160 टीचर्स कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।  आंध्र प्रदेश शिक्षा विभाग के स्कूल शिक्षा आयुक्त वी. चिन्ना वीरभद्रदू ने कहा कि स्कूल आने वाले छात्रों की संख्या की तुलना में संक्रमित छात्रों का आंकड़ा चिंता की बात नहीं है। उन्होंने कहा कि हर स्कूल में हालांकि कोविड-19 सुरक्षा मानकों का पालन कराने के लिए हरसंभव कदम उठाए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में 4  नवंबर को करीब 4  लाख छात्र स्कूल पहुंचे थे। संकमित छात्रों की संख्या 262 है, जो 4 लाख छात्रों का 0.1 प्रतिशत भी नहीं है।  उन्होंने कहा कि यह कहना सही नहीं है कि स्कूल जाने की वजह से छात्र संक्रमित हुए। हमने तय किया है कि हर कक्षा में केवल 15-16 छात्र ही उपस्थित रहें।  यह चिंता की बात नहीं है।

विभाग द्वारा मुहैया कराए गए आंकड़ों के अनुसार, प्रदेश में 9वीं और 10वीं कक्षा के लिए 9.75 लाख छात्र पंजीकृत हुए हैं। इनमें से 3.93 लाख छात्र स्कूल आए। कुल 1.11 लाख टीचरों में से 99,000 से अधिक टीचरों ने स्कूलों में बच्चों को पढ़ाया।

1.11 लाख टीचरों में 160 कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए

शिक्षा आयुक्त ने मीडिया को बताया कि 3 दिन में 1.11 लाख टीचर स्कूल पहुंचे थे जिनमे करीब 160 टीचर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि गरीब विद्यार्थियों पर विद्यालय बंद होने से सबसे ज्यादा असर पड़ा है। क्योंकि ऑनलाइन कक्षाएं उनकी पहुंच से बाहर हैं। स्कूल बंद रहने का असर आदिवासी और ग्रामीण इलाकों की छात्राओं पर भी पड़ेगा क्योंकि पढ़ाई रुकने के बाद उनके अभिभावक उनका बाल विवाह भी कर सकते हैं।

बता दें कि आंध्र प्रदेश में 9वीं, 10वीं तथा इंटरमीडिएट कक्षाओं के लिए सभी सरकारी विद्यालय और कॉलेज 2  नवंबर से फिर से खुल गए हैं। कक्षाएं बारी-बारी से तथा आधे दिन के लिए ही चल रही हैं।

ये भी पढ़ें : झारखंड के मुख्यमंत्री ने मेडिकल कॉलेजों में छात्रों के प्रवेश को न रोकने के लिए मेडिकल काउंसिल को पत्र लिखा 

Related Articles

Back to top button