IPL
IPL

हरिद्वार कुंभ मे 30 साधु Corona Positive, सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

उत्तराखंड की देव भूमि हरिद्वार में 30 साधु कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, सार्वजनिक परिवहन में 50% यात्री ही कर सकेंगे सफर

हरिद्वार: आस्था का सबसे बड़ा पर्व कुंभ मेला (Kumbh Mela) इस बार उत्तराखंड (Uttarakhand) की देव भूमि हरिद्वार (Haridwar) में आयोजित हुआ है। देश के सभी राज्यों के साथ-साथ कुंभ में भी कोरोना कि धीरे-धीरे बढ़ोतरी हो रही है। चिंता कि बात ये है गंगा में स्नान करने आए 30 साधु कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसकी पुष्टी हरिद्वार के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एस.के. झा ने की है।

अखाड़ों में टेस्टिंग

हरिद्वार (Haridwar) के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एस.के. झा ने बताया कि, हरिद्वार में अब तक 30 साधु COVID-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। मेडिकल टीम अखाड़ों में जा रही हैं और साधुओं के लगातार RT-PCR टेस्ट किए जा रहे हैं। टेस्टिंग को 17 अप्रैल से और तेज किया जाएगा।

उत्तराखंड में संक्रमण का आंकड़ा

उत्तराखंड (Uttarakhand) में पिछले 24 घंटों में 2,220 नए कोरोना वायरस COVID-19 के मामले सामने आए हैं और 9 मौतें दर्ज की गई है। इस तरह कुल मामले 1,16,244 हो गए हैं।

सरकार की गाइडलाइन

उत्तराखंड (Uttarakhand) मुख्य सचिव ने कोरोना वायरस COVID-19 के बढ़ते मामलों के चलते यह ऐलान किया है कि, धार्मिक और सामाजिक समारोहों में अधिकतम 200 लोगों को अनुमति होगी। 50% से अधिक क्षमता के साथ सार्वजनिक परिवहन जैसे बस, ऑटो-रिक्शा आदि नहीं चलेंगे। जिम 50% क्षमता के साथ खुलेंगी। कोचिंग सेंटर, स्विमिंग पूल, स्पा बंद रहेंगे।

मेले का आयोजन

कुंभ पर्व हिंदू धर्म का एक महत्वपूर्ण पर्व है, जिसमें करोड़ों श्रद्धालु प्रयाग, हरिद्वार, उज्जैन और नासिक में स्नान करते हैं। इनमें से प्रत्येक स्थान पर प्रति बारहवें साल और प्रयाग में दो कुंभ पर्वों के बीच छह वर्ष के अंतराल में अर्धकुंभ भी होता है। 2013 का कुम्भ प्रयाग में हुआ था। फिर 2019 में प्रयाग में अर्धकुंभ मेले का आयोजन हुआ था।

यह भी पढ़ेUGC NET Exam के लिए एडमिट कार्ड जल्द, जानें परिक्षा तिथी और गाइड लाइन

Related Articles

Back to top button