बंगाल में भाजपा के 300 कार्यकर्ताओं पर हुआ हमला, करीब 130 लोग मारे गए

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव करीब आते जा रहे है। वैसे-वैसे सभी सियासी दलों की रणनीतियां बनने लगी है। इसी बीच भारतीय जनता पार्टी ने परिवर्तन रैली निकाल कर चुनाव से पहले बंगाल में हुंकार भरा है। बता दें कि आज भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (Jp nadda) बंगाल के नौदीप से यात्रा की शुरुआत की।

जनता को सम्बोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (Jp nadda) ने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधा  और कहा कि प्रदेश में तानाशाही की सरकार है। साथ ही उन्होंने कहा, ‘यहां भाजपा के करीब 130 कार्यकर्ता मारे गए हैं। 300 से ज्यादा कार्यकर्ताओं पर हमला किया गया है। ये जब हम पर हमला कर सकते हैं तो आम जनता का क्या हाल होगा? ऐसी सरकार को जाना होगा।’

जेपी नड्डा का ममता सरकार पर हमला

नड्डा ने ममता पर वार करते हुए कहा कि बंगाल की जनता को आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं दिया गया। परिवर्तन यात्रा के माध्यम से जनता को आयुष्मान योजना के बारे में बताएं कि उनके स्वास्थ की चिंता मोदी जी ने की थी, लेकिन ममता बीच में अड़ंगा बनकर खड़ी रहीं। साथ उन्होंने कहा कि आज जिस तरह से बंगाल में सरकार चल रही है, उसमें कोई भी व्यक्ति सरकार के विरोध में बोले, तो उसे जेल में डालने का काम ममता जी कर रही हैं। जिसने भी ममता के खिलाफ आवाज उठाई उस पर कार्रवाई की जाती है।

इस सरकार में जय श्रीराम का नारा लगाना पाप है: नड्डा

बंगाल में आज भी महिलाओं पर अत्याचार हो रहा हैं। उन्होंने कहा की देखा जाये तो रेप के केस सबसे ज्यादा बंगाल में हो रहे हैं, घरेलू हिंसा सबसे ज्यादा बंगाल में हो रही है। बंगाल की मुख्यमंत्री एक महिला है फिर भी महिलाओं की इज्जत नहीं हो रही है, ऐसे में बंगाल को परिवर्तन चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी जी ने बंगाल में आए अम्फान तूफान में सहायता राशि के लिए पहले 1,000 करोड़ रुपए और बाद में 1,700 करोड़ रुपए दिए। इसका कोई हिसाब नहीं है, ये सिर्फ कटमनी के पॉकिट में गया। पश्चिम बंगाल के लोगों ने अगर जय श्रीराम का नारा लगाया, तो इस नारे से सरकार को इतनी नफरत आखिर क्यों है? क्या भारत की संस्कृति के साथ जुड़ना गलत है? क्या महापुरुषों का नाम लेना गलत है? इन लोगों के लिए राजनीति संस्कृति से ऊपर है।

यह भी पढ़ें: कम बैलेंस पर ATM का किया इस्तेमाल तो लगेगा जुर्माना, इस बात का रखें ध्यान

 

Related Articles

Back to top button