पैडमैन’ जैसी फिल्म पर प्रतिबंध लगाना महिलाओं के साथ अन्याय

0

मुंबई| अक्षय कुमार की फिल्म पैडमैन को दर्शकों का अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। लेकिन पाकिस्तान में इस फिल्म के रिलीज पर प्रतिबंध लगा दिया। इस प्रतिबंध पर फिल्मकार आर.बाल्की ने कहा कि इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाना महिलाओं और मानवता के लिए अन्यायपूर्ण है।

आर.बाल्की

फिल्म की सह-निर्माता ट्विंकल खन्ना के साथ बाल्की ने बुधवार को अपनी सफलता का जश्न मनाने के लिए एक कार्यक्रम में भाग लिया और यूनिसेफ और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बातचीत की।

‘पैडमैन’ पर प्रतिबंध के बारे में बाल्की ने बताया, “इस फिल्म पर केवल पाकिस्तान में प्रतिबंध लगा है। मुझे लगता है कि यह उनकी अपनी वजह हो सकती है, लेकिन यह गलत है।”

उन्होंने कहा, “आप इस तरह की फिल्म पर प्रतिबंध नहीं लगा सकते। अगर आप इस तरह की फिल्म पर प्रतिबंध लगा रहे हैं तो यह महिलाओं और मानवता के लिए अन्यायपूर्ण है क्योंकि यह सिर्फ एक फिल्म नहीं है बल्कि यह एक इस शख्स की कहानी है और उन मुद्दों के बारे में है, जिन पर यह बनी है।”

आर.बाल्की ने यह भी बताया कि मध्य पूर्व ने फिल्म को स्वीकार कर लिया है।

आर.बाल्की ने कहा, “अजीब बात है कि फिल्म ने मध्य पूर्व में बड़ी सफलता हासिल की है। यह पहली फिल्म है, जिसे इराक में दिखाया जाएगा और एक ऐसे देश जहां इससे पहले हिंदी भाषी कोई फिल्म रिलीज नहीं हुई।” ‘पैडमैन’ 9 फरवरी को रिलीज हुई। यह अरुणाचलम मुरुगनाथनम के जीवन पर आधारित है।

loading...
शेयर करें