अवैध शराब के धंधे में लिप्त 349 लोगों को गिरफ्तार किया गया

राज्य के आबकारी विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय आर. भूसरेड्डी ने आज यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि बिहार विधान सभा एवं उत्तर प्रदेश तथा मध्य प्रदेश विधानसभा के उप चुनाव को भी देखते हुए

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी की रोकथाम के लिए लगातार प्रवर्तन कार्रवाई करते हुए 349 लोगों को गिरफ्तार किया.

राज्य के आबकारी विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय आर. भूसरेड्डी ने आज यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि बिहार विधान सभा एवं उत्तर प्रदेश तथा मध्य प्रदेश विधानसभा के उप चुनाव को भी देखते हुए आबकारी विभाग द्वारा लगातार प्रवर्तन की कार्रवाई की जा रही है. उन्होंने बताया कि एक सप्ताह में 1050 मुकदमें दर्ज किय़े गये, जिसमें 26,594 लीटर अवैध शराब बरामद की गयी तथा मदिरा बनाने में प्रयुक्त होने वाले 1,03,347 किलो लहन को मौके पर नष्ट किया गया. अवैध शराब में लिप्त 349 व्यक्तियों को गिरफ्तार कर 12 वाहनों को जब्त किया गया.

उन्होंने बताया कि इसी क्रम में प्रयागराज में जिले 240 लीटर स्प्रिट एवं नकली शराब बनाने के उपरकरणों के साथ एक कार बरामद की गयी और 2 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया.

भूसरेड्डी ने बताया कि एक अन्य कार्यवाही में नकली सेनेटाइजर बनाने की एक अवैध फैक्ट्री पकड़ी गई, जिसमें 400 शीशी नकली सेनेटाइजर के साथ इससे सम्बन्धित अन्य उपकरण बरामद किये गये. मौके से गिरफ्तार व्यक्ति के साथ-साथ फैक्ट्री के मालिक के विरूद्ध् विभिन्न धाराओं में एफआईआर दर्ज करायी गयी. बागपत में ईस्टर्न पैरीफेरल एक्सप्रेस-वे पर रोड चेकिंग के दौरान एक कार से हरियाणा राज्य की 400 पौव्वा नकली देशी शराब बरामद करते हुए 2 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया. इसके अतिरिक्त एक बोलेरो पिकअप से हरियाणा राज्य की 139 पेटी अवैध विदेशी मदिरा जब्त की गयी तथा एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया. जनपद गौतमबुद्धनगर में वाहनों की चेकिंग के दौरान एक कार से 284 पौवे विदेशी मदिरा एवं 48 कैन बीयर बरामद किया गया. जनपद बरेली में एक कार से हरियाणा राज्य की 128 बोतल अवैध विदेशी मदिरा बरामद की गयी तथा 2 व्यक्तियों को मौके पर गिरफ्तार किया गया.

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि हरियाणा राज्य की सीमा पर वाहनों की चेकिंग हेतु 16 चेकपोस्ट स्थापित किये गये हैं, जिन पर 24 घण्टे आबकारी स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई है, ताकि हरियाणा राज्य से तस्करी होकर मदिरा बिहार राज्य भेजी न जा सके. इसके अतिरिक्त बिहार राज्य की सीमा पर 17 चेकपोस्टों का गठन करते हुए वहॉं पर भी आबकारी स्टाफ चोबीस घण्टे तैनात किये गये हैं. बिहार राज्य की सीमा से तीन किलोमीटर के अन्दर स्थित 139 आबकारी दुकानों की बिक्री की नियमित रूप से मानीटरिंग की जा रही है तथा सीमावर्ती क्षेत्रों में ढ़ाबों व होटलों पर मदिरापान का पूर्णतया प्रतिबन्धित कर दिया गया है.

यह भी पढ़े: भारत-ब्रिटेन इन्फ्रास्ट्रक्चर पॉलिसी एंड फाइनेंसिंग पर सहमत

Related Articles

Back to top button