पंजाब : गुरूद्वारे के ग्रंथी बच्चे पर ढाया जुल्म, पुलिस ने किया गिरफ्तार

लखनऊ। पंजाब के गुरूद्वारे के ग्रंथी पर एक बच्चे के साथ जुल्म करने का आरोप लगा है। घटना संगरूर की है जहां ग्रंथी पर 9 वर्षीय बच्चे की पिटाई करने का आरोप लगा है। जानकारी के मुताबिक, पीड़ित बच्चा अपने भाई के साथ तीन साल से इस गुरूद्वारे में रह रहा था। बच्चे को प्रताड़ित करने के मामला उस वक़्त खुला जब स्कूल में शिक्षकों ने बच्चे के पीठ पर घाव के निशान देखे।

गुरूद्वारे के ग्रंथी

निशान देखने के बाद शिक्षकों ने वीडियो बनाया और समाजिक कार्यकर्ताओं को भेज दिया। कार्यकर्ताओं ने इसकी शिकायत पुलिस से की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बच्चे पर हुए अत्याचार के खिलाफ कुछ लोगों ने सुनम सिटी पुलिस स्टेशन में शिकायत की। आईपीसी की धारा 323 और किशोर न्याय अधिनियम की कुछ धाराओं के तहत ग्रंथी शेर सिंह खिलाफ मामला दर्ज करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

वहीँ अपने ऊपर लगे आरोपों को ख़ारिज करते हुए गुरूद्वारे के ग्रंथी का कहना है कि उसने केवल बच्चे को थप्पड़ मारा था क्योंकि उसने हाथ धोए नहीं थे और सेंट्रल हॉल में घुस गया था। पीड़ित 9 वर्षीय जसमिंदर सिंह और उसके 12 वर्षीय भाई सन्नी सिंह पिता की मौत के बाद से ही गुरूद्वारे में रहते हैं। क्योंकि उनकी मां उनका पालन पोषण करने में असमर्थ थी।  संगरूर एसएसपी एमएस सिधु के मुताबिक बच्चों को गुरुद्वारे से निकालकर सुरक्षित शेल्टर होम में रखा गया था जहां उनकी मां उन्हें लेकर चली गई।

Related Articles