अखिलेश यादव ने सीएम योगी पर लगाये ये गंभीर आरोप

0

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि हर तरफ अराजकता का माहौल है। कासगंज और बनारस के सिंधिया घाट की घटना ध्वस्त कानून व्यवस्था का एक उदाहरण है। लेकिन इसके बाद भी राजभवन मौन धारण किये हुए है।
अखिलेश यादवअखिलेश यादव ने कहा कि अपराधियों के हौसले बढ़ रहे हैं और शासन और प्रशासन लाचार हो रहे हैं। सरकारइन घटनाओं के लिए किसी कि जवाबदेही भी तय नहीं कर पा रही है। अखिलेश ने आगे कहा कि मुख्यमंत्री को सीतापुर जाने की फुरसत तब मिली, जब उन्होंने कुत्तों से दर्जनों बच्चों की जान बचाने में विफल सरकार पर सवाल खड़ा किया। वहीँ मृत बच्चों के परिजनों की मदद पर भी सरकार का रवैया उदासीन हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में हर तरफ दहशत का माहौल है। दिन दहाड़े ही सरेराह ही वकील की हत्या कर दी जाती है। इस बता से नाराज अधिवक्ता इलाहाबाद सहित पूरे राज्य में हड़ताल पर हैं। भाजपा सरकार बताए कि कानून का शासन कहां है?

उन्होंने आगे कहा कि इस राज्य में कोई ऐसा वक़्त नहीं होता जब किसी न किसी दुर्घटना से लोगों को दो-चार न होना पड़ता हो। बागपत में दो बहनों ने तो स्कूल जाना ही छोड़ दिया। अब वे घर से बाहर भी नहीं निकल पा रही हैं। साथ ही अखिलेश ने हो रहे एनकाउंटर पर भी सवाल खड़े करते हुए कहा कि इससे रामराज्य स्थापित होगा बल्कि अपराधी खुलेआम वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।

loading...
शेयर करें