IPL
IPL

प्रदेश में 36 हजार सफाई कर्मचारियों की होगी भर्ती

download (3)

लखनऊ। प्रदेश सरकार शहरी निकायों में संविदा के आधार पर 35 हजार 774 सफाई कर्मचारियों की भर्ती करेगी। इस भर्ती प्रक्रिया के लिये शासनादेश जारी कर दिया गया है। चतुर्थ श्रेणी के पदों पर नियुक्ति के लिये पूर्व निर्धारित व्यवस्था व निर्देशों को सफाई कर्मियों के पदो ंके लिये शिथिल करते हुए ये भर्तियां की जाएंगी। इन कर्मियों को पूर्व में जारी शासनादेश द्वारा निर्धारित संविदा धनराशि (संबंधित पद का अनुमन्य वेतन बैण्ड एवं ग्रेड वेतन का न्यूनतम तथा उस पर राज्य कर्मचारियों को समय-समय पर देय मंहगाई भत्ते के समान धनराशि) अनुमन्य होगी।

एक माह के भीतर हो जाएगी नियुक्ति

सचिव नगर विकास श्रीप्रकाश सिंह ने बताया कि संविदा सफाई कर्मियों की भर्ती से संबंधित शासनादेश निर्गत होने की तिथि से एक माह के भीतर संबंधित जनपद के जिलाधिकारी एवं नगर आयुक्त नगर निगम अपने-अपने जनपदों से संबंधित समस्त निकायों से सफाई कार्मिकों की संविदा पर नियुक्ति के लिए अपने जनपद की निकायों के संबंध में संकलित विज्ञापन दो प्रतिष्ठिïत समाचार पत्रों में प्रकाशित करायेंगे। विज्ञापन प्रकाशन की तिथि से अधिकतम 10 दिनों की अवधि आवेदन के लिए निर्धारित की जायेगी। आवेदन करने की अन्तिम तिथि के अधिकतम 10 दिनों के अन्दर चयन प्रक्रिया पूर्ण करके संविदा पर तैनाती से संबंधित आदेश जारी कर दिये जायेंगे। विज्ञापन में आवेदन करने के लिए न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष तथा अधिकतम आयु 40 वर्ष रखी जायेगी। इसके अतिरिक्त समय-समय पर आरक्षित श्रेणियों के लिए जारी शासनादेश के अनुसार अधिकतम आयु सीमा में छूट अनुमन्य होगी।

 गठित होगी चयन समिति

संविदा पर रखे जाने वाले इन सफाई कर्मचारियों के लिए एक चयन समिति गठित की जायेगी। नगर निगमों की चयन समिति में नगर आयुक्त अध्यक्ष होंगे जबकि जिलाधिकारी द्वारा नामित अनुसूचित जाति का जिला स्तरीय अधिकारी तथा अन्य पिछड़ा वर्ग का जिला स्तरीय अधिकारी सदस्य होंगे। इस समिति के सदस्य सचिव वरिष्ठ नगर स्वास्थ्य अधिकारी होंगे। इसी प्रकार नगर पालिका परिषद की चयन समिति में जिलाधिकारी द्वारा नामित अपर जिलाधिकारी स्तर का अधिकारी अध्यक्ष होगा तथा निकाय में स्वास्थ्य अधिकारी अथवा मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा नामित उप मुख्य चिकित्साधिकारी, जिलाधिकारी द्वारा नामित अनुसूचित जाति का जिलास्तरीय अधिकारी एवं अन्य पिछड़ा वर्ग का जिलास्तरीय अधिकारी सदस्य होंगे। इस समिति के सदस्य सचिव सम्बन्धित नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारी होंगे।

नगर पंचायतों की समिति में सम्बन्धित तहसील का उप जिलाधिकारी अध्यक्ष होगा, जबकि निकाय में तैनात स्वास्थ्य अधिकारी अथवा मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा नामित उप मुख्यचिकित्सा अधिकारी तथा जिलाधिकारी द्वारा नामित अनुसूचित जाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के तहसील स्तरीय अधिकारी सदस्य होंगे। इस समिति के सदस्य सचिव सम्बन्धित नगर पंचायत का अधिशासी अधिकारी होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button