ओमिक्रॉन के डर के बीच मथुरा में 4 विदेशी पाए गए पॉजिटिव

मथुरा: विदेशों में पाए जाने वाले अत्यधिक संक्रमणीय कोरोनावायरस वैरिएंट ओमिक्रॉन पर चिंताओं के बीच, पिछले 48 घंटों में वृंदावन में वायरस के लिए सकारात्मक परीक्षण करने वाले पांच लोगों में दो महिलाओं सहित चार विदेशी नागरिक शामिल हैं।

स्वास्थ्य विभाग हरकत में आया और चारों विदेशियों को होम आइसोलेट कर दिया गया है। इनके संपर्क में आए लोगों से संपर्क किया जा रहा है।

सीएचसी प्रभारी डॉ स्वाति जड़िया के नेतृत्व में इस्कॉन मंदिर के आसपास के स्थानों पर लोगों के सैंपल लिए गए। साथ ही सीएमओ के निर्देश पर मंदिरों व स्कूल कॉलेजों में आने वाले लोगों के छात्रों, स्टाफ व स्वास्थ्य कर्मियों में लक्षण देखने पर सैंपलिंग कराने की तैयारी शुरू कर दी गई है।

जानकारी के अनुसार, रैपिड रिस्पांस टीम के नोडल प्रभारी डॉ भूदेव ने कहा कि लिथुआनिया, स्पेन और स्विटजरलैंड के विदेशी नागरिकों ने अपने मूल देशों के लिए निर्धारित प्रस्थान से पहले किए गए आरटी-पीसीआर परीक्षणों में कोरोनावायरस के लिए सकारात्मक परीक्षण किया।

आगंतुक पंद्रह दिवसीय यात्रा पर वृंदावन आए थे और लौटने से पहले उन्होंने COVID-19 परीक्षण करवाया। इस जांच के बाद पता चला कि तीनों संक्रमित हैं। इन लोगों के संपर्क में आए 44 लोगों के सैंपल जांच के लिए लिए गए हैं।

स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि लिथुआनिया की महिला 30 साल की है, स्पेनिश 44 वर्षीय महिला है और स्विस नागरिक 47 वर्षीय पुरुष है। उनकी हालत स्थिर है और उन्हें आश्रम में आइसोलेट कर दिया गया है।

जिला मजिस्ट्रेट नवनीत सिंह चहल ने कहा कि ‘जोखिम में’ के रूप में पहचाने जाने वाले देशों से आने वाले विदेशी नागरिकों का परीक्षण एहतियात के तौर पर किया जाएगा।

Related Articles