हैवानियत की इंतहा पार, 4 महीने की बच्ची के साथ पहले किया रेप फिर की हत्या

इंदौर। देश में नाबालिग लड़कियों के साथ हो रहीं बलात्कार की घटनाओं से देश स्तब्ध है। अभी हाल ही में कठुआ और गुजरात में मासूम बच्चियों के साथ हुए रेप और हत्या से देश उबरा नहीं था कि मध्यप्रदेश के इंदौर में एक चार महीने की बच्ची से बलात्कार ने देश को झकझोर दिया है। शुक्रवार को चार महीने की बच्ची का अपहरण किया गया फिर उसके साथ बलात्कार कर हत्या कर दी गई।

इंदौर

पुलिस ने मामले में सीसीटीवी कैमरे के फुटेज के जरिये एक युवा आरोपी की पहचान की है जो बच्ची के परिजन का परिचित है। आरोपी 21 वर्षीय युवक की पहचान सुनील के रूप में हुई है। पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) हरिनारायणाचारी मिश्रा ने बताया कि लोगों की सूचना के बाद बेसमेंट में आज दोपहर बच्ची का लहुलूहान शव बरामद किया गया।

जानकरी के मुताबिक, बच्ची के माता-पिता रजवाड़ा फोर्ट में गुब्बारा बेचते हैं। बच्ची इनके साथ सड़क के किनारे सो रही थी, तभी आरोपी बच्ची को उनके पास से उठा ले गया। जिसके बाद उसके साथ घिनौना काम किया और फिर उसकी हत्या कर दी। डीआईजी ने बताया कि संदिग्ध को पीड़ित परिवार ने आरोपी नहीं बताया है। संदिग्ध बच्ची का अंकल है। शुरुआती जांच में एसआईटी ने संदिग्धों के आरोपी होने से इनकार किया है। आरोपी का पीड़ित परिवार से बहस हुई थी, जिसके बाद उसने इस घटना को अंजाम दिया है।

आरोपी की सारी हरकत सीसीटीवी फूटेज में कैद हो गई है। पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) हरिनारायणाचारी मिश्रा के मुताबिक, बच्ची का अपहरण कर आरोपी बच्ची को कंधे पर डालकर निकला ताकि किसी को शक न हो। फिर वह उसे करीब 50 मीटर दूर स्थित वाणिज्यिक इमारत के तलघर में ले गया। सुबह बच्ची को पास न पाकर माता पिता ने उसकी तलाश शुरू की। इंदौर की इस घटना के बार फिर सोचने पर मजबूर कर दिया है की ये देश कहाँ जा रहा है।

Related Articles