ब्याज के लालच में 40 फीसदी किसानों ने गंवाए मुआवजे के 40 करोड़

0

उत्तर प्रदेश:रियल एस्टेट में निवेश के नाम पर 40 फीसदी ब्याज का झांसा देकर सैकड़ों लोगों से ठगी का मामला प्रकाश में आया है। केवल सुल्तानपुर जिले में ही 24 दर्जन से अधिक किसानों की पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए मिली मुआवजे की 40 करोड़ की रकम डूब गई है।वहीं, कंपनी से अपना पैसा वापस मांगने वाले किसानों को धमकियां मिल रही हैं। इसके चलते बल्दीराय थाने में रविवार को 26 किसानों ने कंपनी के पांच संचालकों के खिलाफ केस एफआईआर दर्ज कराई।बल्दीराय क्षेत्र के रैंचा निवासी किसान सुनील शुक्ल के मुताबिक अयोध्या के मिल्कीपुर थाना क्षेत्र के राम गोपाल गुप्ता, विष्णु गुप्ता, अजीत गुप्ता (तीनों भाई) और अयोध्या के अंजनी कौशल व संतोष गुप्ता ने मिलकर लखनऊ, अयोध्या, प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, अमेठी, अंबेडकरनगर समेत कई अन्य जिलों में अनी बुलियन कंपनी के नाम से दफ्तर खोला था।  पांचों ने अनी बुलियन व्यापार, शेयर मार्केट, रियल स्टेट व घरेलू सामानों की सप्लाई के लिए अनी बुलियन ट्रेडर्स और आई विजन इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड में निवेश करने पर 40 फीसदी ब्याज देने का किसानों से वादा किया। गत वर्ष क्षेत्र के किसानों को पूर्वांचल एक्सप्रेस में गई का मुआवजा मिला था। अधिक लाभ के चक्कर में सुनील ने अपने रिश्तेदारों व अन्य किसानों के साथ मिलकर पिछले साल अक्तूबर में करीब 40 करोड़़ रुपये जमा कराए थे। कंपनी ने 30 जनवरी, 2020 तक का उन्हें फर्जी बांड बनाकर दिया था। बांड का समय पूरा होने पर किसान जब कंपनी से पैसा लेने पहुंचे तो उन्हें धमकी दी जाने लगी।

धीरे-धीरे सभी जिलों में कंपनी के दफ्तर बंद होने लगे तो निवेशकों में हड़कंप मचा। सुनील का दावा है कि कंपनी ने आस-पास के जिलों के सैकड़ों लोगों ने करीब पांच सौ करोड़ रुपये हड़पे हैं। बल्दीराय थाने के एसओ अभिषेक सिंह ने बताया कि केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।पहले भी कोतवाली नगर में दर्ज हुआ था केसकंपनी के खिलाफ शहर के लक्ष्मणपुर निवासी आशुतोष मिश्र ने गत 20 मई को जालसाजी का केस दर्ज कराया था। कोतवाली नगर में आशुतोष ने तहरीर देकर आरोप लगाया था कि कंपनी ने कूटरचित दस्तावेज तैयार कर उनसे 50 लाख रुपये हड़प लिए।

 

loading...
शेयर करें