पेट में आने के 46 साल बाद इस बच्चे ने लिया जन्म, डॉक्टर्स भी हैरान

0

नई दिल्ली। मां बनने की चाह हर महिला को होती है। ऐसे में अगर आपको पता चले कि एक महिला ने अपने बच्चे को ये सोचकर जन्म नहीं दिया कि वो मर जाएगी, तो आपको ये बात वाकई हैरान करने वाली है। दरअसल, ऐसा सच में हुआ है। मोरक्को की रहने वाली जाहरा अबौतालिब साल 1955 में प्रेग्नेंट तो हुई थीं लेकिन लेबर पेन होने के बावजूद उन्होंने अपने बच्चे को जन्म नहीं दिया। अब आपके मन में ये सवाल जरुर आ रहा होगा कि लेबर पेन होने के बावजूद बच्चा क्यों नहीं हुआ, तो आइये आज हम आपको बताते हैं कि आखिर जाहरा के केस में क्या हुआ।

Related image

यह भी पढ़ें : OMG ! पांच महीने में ही बाहर आया ये बच्चा, तस्वीरें आपको कर सकती हैं विचलित

दरअसल, जब जाहरा को लेबर पेन हुआ तब उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। मगर इससे पहले ही उन्होंने एक महिला को बच्चे के जन्म के दौरान मरते हुए देख लिया था, जिसके कारण वो डरकर हॉस्पिटल से भाग गईं। ऐसे में कई दिनों तक उन्हें लेबर पेन होता रहा। इसके बावजूद जब बच्चा नहीं हुआ। इसके बाद भी कई दिनों तक उनके पेट में दर्द हुआ।

अगली स्लाइड में पढ़ें : मोरक्को में बच्चे की मां के गर्भ में सालों तक सोने की है मान्यता

loading...
1
2
शेयर करें