अस्पताल में आग लगने से 5 कोरोना मरीज़ों की मौत, मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को आर्थिक सहायता देने घोषणा की

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राजकोट में कोविड अस्पताल में भीषण आग से जान गंवाने वाले मरीजों के प्रति संवेदना व्यक्त की और आग लगने की जांच के आदेश दिए हैं.

गांधीनगर: गुजरात के राजकोट जिले में कोरोना अस्पताल में आग लगने की घटना सामने आई है. राजकोट के आईसीयू में गुरुवार देर रात आग लगने से पांच मरीज़ों की मौत होने की खबर आ रही है. रिपोर्टों में कहा गया है कि अस्पताल में भर्ती 30 अन्य कोरोनावायरस मरीज़ों को बचा लिया गया है. समाचार एजेंसी के मुताबिक, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राजकोट में कोविड अस्पताल में भीषण आग से जान गंवाने वाले मरीजों के प्रति संवेदना व्यक्त की और आग लगने की जांच के आदेश दिए हैं. रूपाणी ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं तथा मृतकों के परिजनों को चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा भी की है.

उल्लेखनीय है कि आनंद बंगला चौक के निकट स्थित तीन मंजिला उदय शिवानंद कोविड सेंटर अस्पताल की पहली मंजिल पर गुरुवार मध्यरात्रि अचानक से आग लग गयी. अस्पताल में कुल 33 मरीज भर्ती थे. हादसे में आईसीयू में भर्ती 11 मरीजों में से पांच लोगों की मौत हो गयी जबकि अन्य आईसीयू के छह मरीजों सहित 28 लोग झुलस गए. झुलसे लोगों को अन्य अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. मृतकों की पहचान संजय अ. राठोड़ (57), रामसिंहभाई (65), नितिनभाई, केशुभाई ला. अकबरी (50) और रशिकलाल शां. अग्रावत (69) के रूप में हुयी है.

यह भी पढ़े: पीपीई किट पहनकर शादी समारोह में एक शख्स ने किया डांस, वीडियो वायरल

Related Articles