जानिए किस हिन्‍दू नेता का सिर कलम करने पर है 51 लाख का इनाम

0

2015_12$largeimg204_Dec_2015_184433543बिजनौर अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष कमलेश तिवारी ने हजरत मोहम्‍मद साहब पर अभद्र टिप्‍पणी की थी। जिसके बाद मुस्लिमों ने इसके खिलाफ जिले में जुमे की नमाज के बाद जमकर प्रदर्शन किया। इतना ही नहीं जामा मस्जिद इमाम मौलाना अनवारूल हक ने कमलेश का सिर कलम करने वाले को 51 लाख रुपये का इनाम देने का ऐलान कर दिया। एसपी ऑफिस के बाहर भी प्रदर्शन किया गया।

पढ़ें : मोहम्‍मद साहब पर टिप्‍पणी करने वाले कमलेश तिवारी के खिलाफ फूटा गुस्‍सा, लाठीचार्ज

सरकार दे फांसी की सजा

प्रदर्शन इतना बढ़ गया कि साहनपुर में नेशनल हाईवे 74 पर आधे घंटे तक जाम लगा रहा। मुस्लिम समुदाय के लोगों की मांग थी कि कमलेश तिवारी को संप्रदायिक बयान देने के लिए फांसी दी जाए। जुमे की नमाज के बाद चाहशीरी स्थित जामा मस्जिद से मुस्लिम समाज के लोग प्रदर्शन करते हुए कमलेश तिवारी का पुतला लेकर एसपी कार्यालय के सामने पहुंचे और धरना देकर जाम लगाया।

हजरत मोहम्मद साहब की शान में गुस्‍ताखी मंजूर नहीं

जामा मस्जिद इमाम मौलाना अनवारूल हक ने कहा कि मुसलमानों पर बार-बार तोहमतें लगाई जा रही हैं। अब कमलेश तिवारी जैसे लोग हजरत मोहम्मद साहब पर भी अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं। उन्होंने लाउड स्पीकर से खुले मंच से ही कमलेश तिवारी का सिर कलम करने वाले को 51 लाख रुपये देने का ऐलान कर दिया। साथ ही कहा कि हिंदुस्तान का मुसलमान जरूरत पड़ने पर सरहद पर जाकर पाकिस्तान, बांग्लादेश या दूसरे किसी भी देश के खिलाफ जंग लड़नी पड़ी तो पीछे नहीं हटेंगे। लेकिन हजरत मोहम्मद साहब की शान में इस तरह की गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

कमलेश के बयान ने पूरे देश को शर्मशार किया

कारी नासिरुद्दीन ने कहा कि कैबीनेट मंत्री आजम खां ने आरएसएस पर टिप्पणी की थी तो इसका जवाब भी आजम खां को ही दिया जाना चाहिए था। कमलेश तिवारी ने अपने बयान से पूरे देश को शर्मसार किया है। सरकार द्वारा कमलेश तिवारी को फांसी की सजा न दिए जाने पर सिर कलम करने वाले को 51 लाख रुपये देने का इनाम देने की घोषणा की है।

loading...
शेयर करें