अवध एक्सप्रेस से बरामद हुईं 26 बच्चियां, मानव तस्करी की आशंका, दो संदिग्ध हिरासत में…

0

गोरखपुर। यूपी के गोरखपुर रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार को अवध एक्सप्रेस से मानव तस्करी किये जाने की खबर ने सनसनी फैल दी। मामले की जानकारी मिलते ही जीआरपी पुलिस ने 26 बच्चियों को प्लेटफार्म पर उतार लिया। वहीं बच्चियों को साथ लेकर जा रहे दो संदिग्ध व्यक्तियों को हिरासत में लिया है। पुलिस पूछताछ में दोनों संदिग्ध ने बताया कि वह बच्चियों को आगरा के मदरसे में पढ़ाई के लिए ले जा रहे थे।

मानव तस्करी के आशंका के चलते दी थी सूचना

एसपी रेलवे पुष्पांजलि देवी के अनुसार, बिहार के मुजफ्फरपुर से बांद्रा जा रही अवध एक्सप्रेस के कोच संख्या एस-5 में गुरुवार दोपहर नरकटियागंज के पास 26 छोटी बच्चियों के साथ दो पुरुष सवार थे। मानव तस्करी के शक के आधार पर एक यात्री ने जीआरपी और आरपीएफ को सूचना दी थी। कंट्रोल रूम से सूचना मिलते ही जीआरपी और आरपीएफ ने गोरखपुर जंक्शन पर घेराबंदी कर दी। साथ ही कप्तानगंज रेलवे स्टेशन पर सादे कपड़े में आरपीएफ के दो जवान भी कोच में बैठ गए।

गोरखपुर जंक्शन पर बच्चियों को उतारा

शुक्रवार को गोरखपुर जंक्शन पर ट्रेन के पहुंचते ही जीआरपी और आरपीएफ ने कोच में सवार सभी बच्चियों को नीचे उतार लिया। सभी बच्चियां की उम्र करीब 10 से 14 साल के बीच है। एसपी के मुताबिक, सभी बच्चियां बिहार के पश्चिमी चंपारण की रहने वाली हैं। वहीं हिरासत में लिए गए सफदर और शेख आशा के दावे की पड़ताल चल रही है।

जीआरपी ने बच्चियों को चाइल्ड लाइन भेजा

मदरसे का नाम, पता पूछने के बाद जीआरपी दोनों के दावों की छानबीन में जुट गई है। एसपी रेलवे ने बताया कि बिहार के साथ ही आगरा के अधिकारियों से भी संपर्क साधा जा रहा है, जिससे हिरासत में लिए गए आरोपियों के बयानों की पुष्टि की जा सके। फिलहाल बच्चियों को जीआरपी ने चाइल्ड लाइन को सौंप दिया है और मानव तस्करी की आशंका को देखते हुए हर पहलू को तलाश रही है।

loading...
शेयर करें