बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल का बड़ा बयान, खोला राज

0

गोरखपुर। सीएम योगी आदित्‍यनाथ के संसदीय क्षेत्र के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्‍चों की मौत से हाहाकार मचा है। सीएम और केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जेपी नड्डा गोरखपुर पहुंच चुके है। वहीं बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल ने बड़ा बयान दिया है।

सस्‍पेंड हो चुके हैं मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल

बच्‍चों की मौत होने पर सारी गाज कॉलेज के प्रिंसिपल राजीव मिश्रा पर गिरी। सीएम योगी ने उन्‍‍हें सस्‍पेंड कर दिया है। वहीं राजीव मिश्रा ने अपनी बेगुनाही के बारे में कहा है कि इस घटना के पीछे उनका कोई हाथ नहीं है।

यह भी पढ़ें: बच्चों की मौत का जायजा लेने गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी 

अगली स्‍लाइड में पढ़ें प्रिंसिपल का बयान  

अपने को बताया बेकसूर

मेडिकल कॉलेज के प्रिसिंपल राजीव मिश्रा कहा है कि वह बेकसूर हैं और सारा दोष ऑक्सीजन सप्लायर कंपनी का है। घटना में मेरा कोई हाथ नहीं है।

सिद्धार्थ नाथ सिंह

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री दे चुके हैं बयान

वहीं प्रदेश के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने पहले बयान दिया था कि कॉलेज के प्रिंसिपल का जो व्‍यवहार था वह गैर जिम्‍मेदाराना था। इस वजह से उन्‍हें सस्‍पेंड किया गया है। वहीं राजीव मिश्रा ने इस पर भी अपना बयान दिया

अगली स्‍लाइड में पढ़ें क्‍या कहा राजीव मिश्रा ने

गैस कंपनी को बनाया आरोपी

प्रिंसिपल मिश्रा ने कहा कि सरकार को जो कार्रवाई करनी थी वह कर चुकी। मेरा कोई कसूर नहीं है। राजीव मिश्रा ने कहा कि ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी पुष्पा सेल्स के साथ 8 साल कॉन्ट्रेक्ट था और उन्हें गैस की सप्लाई करनी चाहिए थी।

जांच होने पर सामने आएगी सच्‍चाई

ऑक्सीजन सप्लायर कंपनी को दोषी ठहराते हुए राजीव मिश्रा ने कहा कि अगर सीएम योगी आदित्यनाथ इस मामले की ठीक से जांच करेंगे तो उन्हें सच पता चलेगी कि मेरी कोई गलती नहीं है। मिश्रा ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री ने जो बयान दिया था वह ठीक है। अस्पताल में अगस्त के माह में ज्यादा मौतें होती हैं।

loading...
शेयर करें