IPL
IPL

राष्ट्रीय महिला आयोग ने जाना नारी निकेतन का सच

देहरादून। संवासिनी से दुष्कर्म और गर्भपात मामले की जांच के लिए नारी निकेतन पहुंची राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम ने छह घंटे तक गहन पड़ताल की। दोपहर के दौरान गयी टीम शाम सात बजे के बाद नारी निकेतन से बाहर निकली। इस दौरान एनसीडब्ल्यू टीम ने मीडिया से किसी भी तरह की बात से साफतौर पर इंकार कर दिया। सूत्रों के मुताबिक राष्ट्रीय महिला आयोग टीम को नारी निकेतन में गंदगी समेत तमाम खामियां देखने को मिलीं।

राष्ट्रीय महिला आयोग 2

राष्ट्रीय महिला आयोग टीम से मिला बीजेपी प्रतिनिधिमंडल

संवासिनी रेप और गर्भपात मामले के सामने आने के बाद से सियासत भी हो रही है। बीजेपी ने इस मामले की राष्ट्रीय महिला आयोग से शिकायत की साथ ही सीबीआई जांच की मांग की है। वहीं कांग्रेस ने संवासिनियों के हित में कई कदम उठाकर ये जताने की कोशिश की वो बहुत गंभीर है। बीजेपी की शिकायत के बाद ही राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य रेखा शर्मा ने नारी निकेतन मामले में संवासिनियों के बयान दर्ज किए और कई सबूत भी जुटाये। इसी दौरान बीजेपी के एक प्रतिनिधिमंडल ने NCW की जांच टीम से मुलाकात कर पूरे मामले की सीबीआई से जांच की मांग दोहरायी। बीजेपी ने इस मामले में कई सफेदपोशों के शामिल होने की आशंका जताते हुए पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाये।

ये भी पढ़ें – डीएनए ने खोला राज…सफाई कर्मचारी ने किया संवासिनी से रेप

राष्ट्रीय महिला आयोग 3

राज्य महिला आयोग ने जताई मानव तस्करी की आशंका

वहीं राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष और उपाध्यक्ष ने भी राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य से मुलाकात कर इस मामले में जरूरी जानकारियां दी। राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष प्रभावती गौड़ का कहना है कि नारी निकेतन के तार मानव तस्करी से जुड़े हैं। उनका कहना है कि उनके पास इसके सबूत भी है कि कई मूकबधिर महिलाएं मानव तस्करी का शिकार हुई हैं।

ये भी पढ़ें – देर से ही सही…नारी निकेतनों के कायाकल्प की तैयारी

राष्ट्रीय महिला आयोग 5

साढ़े छह घंटे में मुझे हकीकत पता चल गई

NCW की सदस्य रेखा शर्मा का कहना है कि मामला बेहद गंभीर है और इसमें सफेदपोश भी शामिल हो सकते हैं। जिन्हें गिरफ्तार किया गया, उनका कसूर बहुत कम है। लेकिन ऊंची पहुंच और रसूख वाले अभी भी बाहर घूम रहे हैं और उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही। नारी निकेतन बदबू से भरा पड़ा है और मामला सामने आने के बाद भी स्थितियों में कोई सुधार नहीं हुआ है। शर्मा ने ये भी कहा कि मैं साढ़े छह घंटे में नारी निकेतन की हकीकत जान गई लेकिन यहां के अधिकारी अब तक इससे अनभिज्ञ क्यों हैं ये समझ से परे है। लेकिन ये बात सही है कि वे खुद भी मामले में कोई कार्रवाई नहीं करना चाहते। रेखा शर्मा ने जोर देते हुए कहा कि बहुत जल्द इस मामले में नया और अहम खुलासा सभी के सामने आयेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button