राज्यसभा में हंगामा करने वाले 8 सांसद एक हफ्ते के लिए निलंबित, टीएमसी सांसद ने फाड़ी थी रूल बुक

राज्यसभा में हंगामा करने वाले 8 सांसद एक हफ्ते के लिए निलंबित, टीएमसी सांसद ने फाड़ी थी रूल बुक

नई दिल्ली: किसानों से जुड़े विधेयक पर कल रविवार को चर्चा के दौरान जबरदस्त हंगामा और राज्यसभा के उपसभापति के इर्द-गिर्द गलत तरीके से विरोध करने वाले 8 सांसदों को सभापति वेंकैया नायडू ने एक हफ्ते के लिए सदन से निलंबित कर दिया है। सभापति वेंकैया नायडू ने डेरेक ओ’ब्रायन, संजय सिंह, राजीव सातव, के.के. रागेश, रिपुन बोरा, डोला सेन, सैयद नजीर हुसैन और एलामरम करीम के खिलाफ सदन में गलत आचरण को लेकर कार्रवाई की है। वहीँ उपसभापति हरिवंश के खिलाफ लाये गए अविश्वास प्रस्ताव को भी सभापति ने खारिज कर दिया है।

सभापति वेंकैया नायडू ने कहा कि कल का दिन सदन के लिए सबसे खराब था। कुछ राज्यसभा सदस्यों के आचरण ने शिष्टाचार की सभी सीमाओं को पार कर दिया, जिसने सदन की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाया है।

हंगामा देख सभापति बोले मार्शल्स न बुलाते तो उपाध्यक्ष के साथ क्या होता ये सोचकर मैं परेशान हूँ –

राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने रविवार को राज्यसभा में हंगामा करने वाले 8 सांसदों पर कर्रवाई करते हुए उन्हों सात दिनों के लिए मानसून सत्र से निलंबित कर दिया है। सभापति रविवार को सदन की स्थिति पर चिंता जताते हुए कहा कि अगर कल मार्शल्स को सही समय पर नहीं बुलाया जाता तो उपाध्यक्ष के साथ क्या होता ये सोचकर मैं परेशान हूं। कल का दिन राज्‍यसभा के लिए बहुत बुरा दिन था जब कुछ सदस्‍य सदन के वेल तक आ गए। डिप्‍टी चेयरमैन के साथ धक्‍कामुक्‍की की गई। उन्‍हें अपना काम करने से रोका गया। यह बेहद दुर्भाग्‍यपूर्ण और निंदनीय है। मैं सांसदों को सुझाव देता हूं, कृपया थोड़ा आत्‍मनिरीक्षण कीजिए।

ये भी पढ़ें : कृषि सुधारों बिल पास होने पर PM मोदी ने दी बधाई, कहा- कृषि इतिहास में बड़ा दिन

बता दें कि राज्यसभा में रविवार को खेती किसानी से जुड़े दो विधेयकों पर चर्चा के दौरान विपक्ष के सांसदों ने जोरदार हंगामा किया था। इस दौरान तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने उप सभापति के करीब पहुंचकर रूल बुक फाड़ दी। विपक्षी दलों के नेताओं ने उप सभापति हरिवंश पर संसदीय नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए जबरन बिल पारित कराने का आरोप भी लगाया। डेरेकने आरोप कहा कि संविधान ने सांसदों को जो अधिकार दिया है उसे आज सदन में छीना गया।

ये भी पढ़ें : कृषि बिल को लेकर राहुल गांधी का हमला, किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बना रही मोदी सरकार

Related Articles

Back to top button