ब्रिटेन में 82 वर्षीय वृद्ध को ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका का लगा पहला टीका

ब्रिटेन के 82 वर्षीय सेवानिवृत्त मेंटेनेंस मैनेजर ब्रायन पिंकर कोविड-19 (COVID-19) के लिए ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका टीका लेने वाले विश्व के पहले व्यक्ति बने।

लंदन: ब्रिटेन (Britain) के 82 वर्षीय सेवानिवृत्त मेंटेनेंस मैनेजर ब्रायन पिंकर कोविड-19 (COVID-19) के लिए ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका टीका (Vaccination) लेने वाले विश्व के पहले व्यक्ति बने। सोमवार से ब्रिटेन (Britain) में ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय (University of Oxford) के एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित कोविड-19 टीके का टीकाकरण शुरू हुआ है। इसका पहला टीका ऑक्सफोर्ड (Oxford) में जन्मे 82 वर्षीय डायलिसिस के रोगी को दिया गया है। ब्रायन पिंकर उन पहले कुछ लोगों में शामिल हैं जिन्हें ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में यह टीका लगाया गया।

ऑक्सफोर्ड के चर्चिल अस्पताल में नर्स सैम फोस्टर से सोमवार को डायलिसिस के मरीज पिंकर ने 1300 बजे टीके की खुराक प्राप्त की। स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक के हवाले से कहा कि यह वायरस के खिलाफ ब्रिटेन की लड़ाई में एक ‘निर्णायक क्षण’ था, क्योंकि टीके संक्रमणों को रोकने में मदद करेंगे और प्रतिबंधों को हटाने की अनुमति देंगे।

ये भी पढ़ें : बीजेपी शासनकाल में हुए सभी निर्माण कार्यों की हो उच्च स्तरीय जांच: विधानसभा नेता प्रतिपक्ष

ब्रिटेन पहला देश है जिसने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राज़ेनेका कोविड-19 वैक्सीन को मंजूरी दी। इस टीके को 2-8 डिग्री सेल्सियस के सामान्य रेफ्रिजरेटर तापमान पर संग्रहित किया जा सकता है। इसे दूर-दराज के क्षेत्रों में संग्रहित करना और परिवहन करना भी आसान है। ऑक्सफोर्ड वैक्सीन ट्रायल के प्रमुख अन्वेषक प्रोफेसर पोलार्ड ने कहा, ‘‘मेरे लिए यह सबसे बड़ी गर्व की बात है कि, जब मुझे वह टीका लगा जिसे बनाने के लिए ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और एस्ट्राजेनेका की टीम ने इतनी मेहनत की ताकि इसे ब्रिटेन और दुनिया को उपलब्ध करवाया जा सके।’’

Related Articles

Back to top button