NIA की छापेमारी में अलक़ायदा से जुड़े 9 आतंकी हुए गिरफ्तार

पाकिस्तान हमेशा ही भारत के खिलाफ कोई न कोई साज़िश करने में लगा रहता है। इस बार भी पाकिस्तान का कुछ ऐसा ही कारनामा देखने को मिला है। दरअसल, राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने आतंकी संगठन अलकायदा के बड़े नेटवर्क का पर्दाफाश करने का दवा किया है।

0

नई दिल्ली : पाकिस्तान ने भारत से दुश्मनी निभाने की कसम खा रखी है। हर रोज़ कोई दुश्मनी के नए नए टिप्स पूछ कर तो देखे, पाकिस्तान इस मामले में गूगल को भी पीछे छोड़ देगा। लेकिन जहाँ अक्ल का इस्तेमाल करना चाइए वहां इनके दिमाग की बत्ती बुझ जाती है। पाकिस्तान भारत के खिलाफ आतंकी चाल चलते चलते हद से ज़्यादा चालक हो गया है। अब इसकी उल्टी घूमती खोपड़ी को सीधा करना बहुत ज़रूरी है।

पाक की नापाक चाल
पाक की नापाक चाल

 

पाकिस्तान हमेशा ही भारत के खिलाफ कोई न कोई साज़िश करने में लगा रहता है। इस बार भी पाकिस्तान का कुछ ऐसा ही कारनामा देखने को मिला है। दरअसल, राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने अलकायदा के बड़े नेटवर्क का पर्दाफाश करने का दवा किया है। एनआईए ने अलकायदा मॉडयूल को लेकर पश्चिम बंगाल और केरल में छापेमारी के दौरान 9 संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है। ये छापेमारी केरल के एर्नाकुलम और पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में की गई है। एनआईए ने आज सुबह केरल के एर्नाकुलम और पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में इस छापेमारी को अंजाम दिया है।

NIA
NIA

छापेमारी में केरल से 3 आतंकी और बंगाल से 6 आतंकी मिले हैं। सूत्रों के मिली जानकारी के मुताबिक इनसभी आतंकियों के निशाने पर कई सुरक्षा प्रतिष्ठान थे। गिरफ्तार आतंकियों में से अधिकतर लोगों की उम्र 20 वर्ष के आसपास बताई जा रही है। यह सभी लोग मजदूरी करते हैं लेकिन इस साज़िश की जानकारी मिलने के बाद इन पर नज़र रखी जा रही थी। एनआईए ने इसे लेकर केस दर्ज कर लिया है और आगे की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

पाकिस्तान के इशारे पर कर रहे थे काम :

एनआईए को संदिग्ध आतंकियों के पास से डिजिटल उपकरण, दस्तावेज, जिहादी साहित्य, धारदार हथियार सहित बड़े पैमाने पर अन्य सामग्रियां बरामद हुई हैं। शुरूआती जांच में यह पता चला है कि सोशल मीडिया के जरिये इन्हें कट्टरपंथी सिखाई गई है। पाकिस्तान में बैठे आतंक के आकाओं के हाथ में इन इंसानी बमों का रिमोट रहता है, जिसके ज़रिए ये भारत में आतंक को अंजाम देने का इरादा बना रहे थे। बता दें, इन्हें दिल्ली सहित कई महत्वपूर्ण स्थानों पर अटैक करने के लिए उकसाया गया था।

यह भी पढ़ें :जस्टिस रुथ बेडर ने लैंगिक भेदभाव के खिलाफ हमेशा आवाज बुलंद की

              IPL 2020: मुंबई और चेन्नई के बीच पहला मैच आज, जानें किस टीम का पलड़ा भारी

शेयर करें