प्यार की सच्ची कहानी, अंत समय में भी नहीं छोड़ा एक दूसरे का हाथ

ये तस्वीर है एक बुजुर्ग दंपंती की जहां दोनों ने एक दूसरे का हाथ थामे-थामे इस दुनिया को अलविदा कह दिया। बता दें कि बुजुर्ग दंपंती ब्रिटेन के रहने वाले थे।

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के दौरान लाखों लोगों ने अपनी जान गंवा दी। किसी की जान अपने घर तक पहुंचने से पहले ही चली गई तो किसी ने हॉस्पिटल में कोविड से जुझते हुए दम तोड़ दिया। वहीं ऐसी ही कुछ एक तस्वीर हमारे सामने आई है जिसे देखने के बाद हर किसी का दिल पसीज जाएगा और आपकी आंखों में भी आंसू  आ जाएगा।

तीन दिन के अंतर पर छोड़ दी दुनिया

ये तस्वीर है एक बुजुर्ग दंपंती की जहां दोनों ने एक दूसरे का हाथ थामे-थामे इस दुनिया को अलविदा कह दिया। बता दें कि बुजुर्ग दंपंती ब्रिटेन के रहने वाले थे। दोनों की उम्र 91 साल के आस-पास की बताई जा रही है। दोनों बुजुर्ग कोविड के चपेटे में आ गए थे जिससे दोनों की मौत हो गई।

हैरानी की बात तो ये रही की मौत के दौरान भी दोनों ने एक दूसरे का हाथ नहीं छोड़ा। दोनों ही कोविड पॉजिटिव थे जिसके वजह से दोनों के बेड को भी एक ही रूम में शिफ्ट कर दिया गया था। मौत से कुछ देर पहले ही दोनों ने हाथ पकड़े- पकड़े एक तस्वीर भी खिंचवाई। बता दें कि बुजुर्ग दंपत्ति का नाम मार्क और डेरेक फर्थ था।

यह भी पढ़ें: Kumar Vishwas की ये कविता सुना दी, तो आपको दिल दे बैठेगी आपकी सपनों की रानी

वहीं बात करें दोनों की लव लाइफ के बारे में तो दोनों 14 साल की उम्र में ही एक दूसरे को दिल दे बैठे थे। जब कुछ दिनों पहले मार्ग्रेट को कोविड हुआ तो उन्हें पहले मैनचेस्टर के वाइथनशॉ अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनकी तबीयत और ज्यादा बिगड़ गई जिसके वजह से उन्हें बाद में ट्रैफर्ड अस्पताल में भर्ती करा दिया गया।

यह भी पढ़ें: FINALE से पहले ही विनर का नाम Declare, इनके सिर सजेगा BIGG BOSS 14 का ताज!

मार्गेट के बाद उनके पति डेरेक को भी संक्रमण होने पर वाइथनशॉ में भर्ती कराया गया। लेकिन उम्र ज्यादा होने के कारण दोनों पर संक्रमण का असर काफी ज्यादा घातक बन चुका था। मामले की गंभीरता को समझते हुए डॉक्टर ने डेरेक को भी ट्रैफर्ड जनरल हॉस्पिटल में ट्रांसफर कर दिया जिससे दोनों का जोड़ा अंत समय में एक दूसरे से अलग न हो पाए। हालांकि अस्पताल में 31 जनवरी को पहले डेरेक की मौत हुई और उसके तीन दिन बाद मारग्रेट की भी मौत हो गई।

Related Articles

Back to top button