95 साल तक था हिटलर

95 साल की उम्र तक एडोल्फ हिटलर अपनी ब्राजीलियन प्रेमिका के साथ जिंदा था। यह बात एक पुराना दुर्लभ चित्र साबित करता है। इससे यह भी सिद्ध होता है कि वह बंकर में नहीं मरा था और ब्राजील भाग गया था। एक नाजी खोजी लेखक ने यह दावा किया है। पुस्तक में चौंकाने वाले खुलासे में कहा गया है कि ब्राजील को माटो ग्रोसो राज्य के एक छोटे से शहर में बसने पूर्व क्रूर तानाशाह अर्जेन्टीना होते हुए पराग्वे भाग गया था।

95 साल का हिटलर

कहा जाता है कि हिटलर ने नया नाम एडोल्फ लिपजिग रख लिया था और वह बारह हजार स्थानीय लोगों के बीच नोसा सिन्होरा दो लिवरामेंटो यानी बूढ़े जर्मन के रूप में जाना जाता था। यह चित्र इस विवादित आदमी की मृत्यु से दो साल पहले 1984 का है। जिसमें वह अपनी ब्लैक प्रेमिका कटिंगा के साथ प्रसन्नमुद्रा में नजर आ रहा है।

सिमोनी रेनी गुर्रेइरो डिअस जिसने ब्राजील में हिटलर की जिंदगी और उसकी मौत के बारे में लिखा का दावा है कि वह वेटिकन में मित्रों से मिले नक्शे के आधार पर उसे जमीन में दफन खजाने की तलाश थी। लेखिका का दावा है कि हिटलर अपनी असली पहचान छिपाने के लिए अपनी प्रेमिका कटिंगा का इस्तेमाल करता था।

95 साल के लिपजिंग के डीएनए का मिलान हो

सिमोनी जो कि ब्राजीलियन यहूदी है ने यह मानने से इनकार किया है कि 30 अप्रैल 1945 को हिटलर ने एक बंकर में खुद को गोली मार ली थी। उसने दफनाए गये 95 साल के लिपजिंग के अवशेषों के डीएनए का हिटलर के परिवार के लोगों के डीएनए से मिलान किये जाने की मांग की है। उसने कहा कि पहले मुझे इन सब बातों पर हंसी आती थी लेकिन अब मुझे यकीन है कि यह एक संयोग नहीं है। एक नन के हवाले से भी यह बात पता चली कि वह हिटलर ही था। और वेटिकन के आदेश पर वहां था।

हिटलर की मौत ड्रामा थी

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button