खुशखबरी: रेलवे बहुत जल्द बोलेगा, आप कैमरे की नजर में हैं, लगाए जाएंगे 900 सीसीटीवी कैमरे

0

नई दिल्‍ली। भारतीय रेलवे को हाइटेक बनाने के लिए पुरजोर काशिश की जा रही है। रेल मंत्री ने पहले ही रेल मंत्रालय को सुधारने की बात कही थी। इसी सिलसिले में एक नया कदम उठाया गया है। खबर मिली है कि निर्भया फंड की मदद से रेलवे 900 से ज्‍यादा सीसीटीवी कैमरे लगवाएगा। 983 रेलवे स्‍टेशन पर सीसीटीवी कैमरे की बात सामने आई है।

983 रेलवे स्‍टेशन पर सीसीटीवी कैमरे

983 रेलवे स्‍टेशन पर सीसीटीवी कैमरे पर खर्च होंगे करीब 500 करोड़

भारतीय रेलवे ने इस बात का अंदाजा लगाया है कि सीसीटीवी कैमरों को लगाने पर करीब 500 करोड़ का खर्च आएगा। इसके लिए बहुत जल्‍द रेलवे टेंडर निकालेगा। ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्‍योंकि लोगों में सुरक्षा को लेकर कोई संदेह न हो। सुरक्षा का लेकर पहले भी रेलवे की किरकिरी हो चुकी है।

महिलाओं की सुरक्षा जरूरी

रेलवे स्टेशन पर महिलाओं समेत सभी लोगों की सुरक्षा 24 घंटे सुनिश्चित करने के लिए यह कदम उठाया जा रहा है। देश में महिलाओं की सुरक्षा और उनके सम्मान की रक्षा के लिए सरकार और एनजीओ के प्रयासों को मदद देने के लिए केंद्र सरकार ने साल 2013 में केंद्रीय बजट में 1000 करोड़ की राशि के साथ निर्भया फंड बनाया था। ये कैमरे प्लेटफॉर्म और प्रतीक्षालय वाले क्षेत्रों में लगाए जाएंगे। प्रशिक्षित आरपीएफ कर्मचारियों के जरिए लगातार सीसीटीवी फुटेज की निगरानी के लिए स्टेशन पर नियंत्रण कक्ष होंगे। रेलवे मंत्रालय के एक बड़े अधिकारी ने बताया कि स्टेशन मास्टर को भी सीसीटीवी कैमरा फुटेज पर निगरानी का अधिकार दिया जाएगा।

रेलवे के पास करीब 8000 हजार स्‍टेशन

रेलवे के पास 8,000 स्टेशन हैं, जिनमें से मौजूदा समय में 344 स्टेशन पर पहले से ही सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है। रेलवे अधिकारी ने बताया कि यह हमें बड़े पैमाने पर मदद करने जा रहा है। स्टेशन पर लगे ‘यू आर अंडर वॉच (आप निगरानी में हैं) से अपराधी मानसिकता वाले लोगों में अपराध को लेकर हिचक पैदा होती है।

चरणबद्ध तरीके से लगाए जाएंगे सीसीटीवी कैमरे

रेलवे का लक्ष्य चरणबद्ध तरीके से सभी स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरा लगाने का है। स्टेशन के अलावा राजधानी जैसी महत्वपूर्ण ट्रेनों में भी इस योजना के तहत सीसीटीवी कैमरा लगाया जाएगा। वहीं, शान-ए-पंजाब एक्सप्रेस इस प्रणाली से पूरी तरह से लैस है। मुंबई उपनगरीय सेवा के कुछ महिला कोच में पायलट प्रोजेक्ट के तहत कैमरे लगाए जा रहे हैं। हमसफर एक्सप्रेस और आनेवाली तेजस सेवा भी सीसीटीवी कैमरे से लैस होगी।

loading...
शेयर करें