कृषि सुधार कानूनों के समर्थन में एक किसान गोष्ठी का हुआ आयोजन

तीनों ऐतिहासिक कृषि सुधार कानूनों के समर्थन में एक किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें मौजूद किसानों ने एक स्वर से नरेन्द्र मोदी सरकार के बनाये गए कृषि कानूनों का जोरदार समर्थन किया।

नई दिल्ली: कृषि कानून को लेकर किसानों का भ्रम दूर करने के लिए केंद्र सरकार के आला मंत्रियों व सांसदों ने कमर कस ली है। दक्षिण दिल्ली के मोलड़बंद गांव में मंगलवार तीनों ऐतिहासिक कृषि सुधार कानूनों के समर्थन में एक किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें मौजूद किसानों ने एक स्वर से नरेन्द्र मोदी सरकार के बनाये गए कृषि कानूनों का जोरदार समर्थन किया।

गोष्ठी को संबोधित करते हुए दिल्ली विधानसभा में नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने तीनों कृषि कानूनों से होने वाले फायदों की जानकारी किसानों को दी और कहा कि ये कानून उनकी जिंदगी में खुशहाली लेकर आएंगे। उन्होंने कहा कि विपक्षी दल हताश हैं और इन कानूनों के बारे में किसानों को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें : 70 साल के बुजुर्ग लिव इन में महिला के साथ रहते थे, बेटों ने कर दी दोनों की हत्या

रोहताश कुमार ने भी इस गोष्ठी को संबोधित किया

उन्होंने आगे बताया कि सरकार ने कहा एमएसपी जारी रहेगी, मंडियों का विस्तार होगा।एमएसपी जारी रहेगी ये लिखित में देंगे। दक्षिण दिल्ली जिला भाजपा के अध्यक्ष रोहताश कुमार एडवोकेट ने भी इस गोष्ठी को संबोधित किया, वही चौधरी टीकम नम्बरदार ने इस गोष्ठी की अध्यक्षता की। गृहमंत्री, कृषिमंत्री ने किसानों के साथ संवाद किया उन्हें समझाने की कोशिश की।

Related Articles