पाकिस्तानी (Pakistani) महिला बनी रही ग्राम प्रधान, खुलासा हुआ तो अधिकारीयों के उड़ गए होश 

एटा: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में एटा की जलेसर तहसील में पाकिस्तानी (Pakistani) महिला के कार्यवाहक ग्राम प्रधान बनने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। मामले की जांच के बाद जिला पंचायत अधिकारी ने एफआइआर कराने के निर्देश अपने मातहतों को दिये हैं।

अधिकृत सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी (Pakistani) महिला के कार्यवाहक ग्राम प्रधान बनने के मामले की जांच के बाद जिला पंचायत राज अधिकारी एटा आलोक प्रियदर्शी ने ग्राम पंचायत सेक्रेटरी ध्यान पाल सिंह को एफआईआर कराने के आदेश दिये हैं।

जनवरी 2020 में बनी ग्राम प्रधान

एटा जिले की जलेसर तहसील के ग्राम गुदाऊ में पाकिस्तानी (Pakistani) नागरिक बानो बेगम इस साल जनवरी में कार्यवाहक ग्राम प्रधान बनी थी। इससे पहले वह 2015 में गुदाऊ की ग्राम पंचायत सदस्य चुनी गई थी। पिछली जनवरी को ग्राम प्रधान शहनाज बेगम की मौत के बाद बानो बेगम को गाँव का कार्यवाहक प्रधान बनाया गया था। हालांकि शिकायत के बाद बानो बेगम ने कार्यवाहक प्रधान पद से इस्तीफा दे दिया था।

35 साल पहले आई थी भारत

जानकारी के अनुसार बानो बेगम 35 साल पूर्व पाकिस्तान से एटा रिश्तेदारी में आई थी और यहाँ अख्तर अली से निकाह कर लिया था, तब से लांग टर्म वीजा को एक्सटेंड करवा कर यहीं रह रही है। पिछली दस दिसम्बर को गांव के कुवेदान खान नामक व्यक्ति ने इस मामले की शिकायत पंचायती राज विभाग से की थी। उन्होंने बताया कि बानो बेगम का आधार कार्ड, वोटर कार्ड आदि दस्तावेज तैयार करवाने वालों पर कार्रवाई होनी तय है।

यह भी पढ़ें:

Related Articles