यूपी उप चुनाव में जीत के लिए अखिलेश ने बनाई रणनीति, सीएम योगी सीट पर इन्हें बनाया उम्मीदवार

0

लखनऊ। समाजवादी पार्टी ने गोरखपुर और फूलपुर में होने वाले उप चुनाव के पहले दो पार्टियों के साथ गठबंधन कर लिया है। इस गठबंधन का ऐलान खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किया। वहीँ अखिलेश यादव ने सीएम योगी के इस्तीफे के बाद खाली पड़ी गोरखपुर लोकसभा सीट के लिए इंजीनियर प्रवीण कुमार निषाद को प्रत्याशी बनाया है। प्रवीण निषाद पार्टी के अध्यक्ष डॉ संजय निषाद के बेटे हैं। वहीं फूलपुर सीट से सपा ने नागेन्द्र प्रताप सिंह पटेल को प्रत्याशी बनाया है। वहीँ इस चुनाव में पीस पार्टी ने पना समर्थन देने का ऐलान किया है।

अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने पीस पार्टी और निषाद पार्टी का समर्थन मिलने पर धन्यवाद दिया है। इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि हम पूरी तरह से तैयार हैं, लड़ेंगे और लड़कर जीतेंगे। इस उपचुनाव में हम केंद्र के घोषणा पत्र और विधानसभा के घोषणा पत्र को लेकर जाएंगे, अब सच्चाई पर चर्चा हम करेंगे। इन्होंने पहले चाय पर चर्चा करके उलझाया, अब पकौड़े पर उलझाने की तैयारी कर ली है।

उन्होंने कहा कि आज किसान कर्ज की वजह से मर रहे हैं। लेकिन इनके सहयोग से लोग कागज पर प्लान दिखा कर अरबों-खरबों रुपए लेकर भाग गए।निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय कुमार निषाद ने कहा कि मुसलमानों और निषादों की बीमारी अब एक जैसी हो गयी है। ऐसे में इस बीमारी का इलाज भी एक जैसा होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर हम एक हो जाएं तभी दुश्मन से लड़ सकते हैं।

गौरतलब है कि यूपी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद के इस्तीफे से रिक्त हुई गोरखपुर और फूलपुर संसदीय सीट पर उपचुनाव का शंखनाद हो चुका है। इन दोनों सीटों पर उपचुनाव के तहत 11 मार्च को वोट डाले जाएंगे। परिणाम 14 मार्च को घोषित किये जायेंगे। नामांकन की प्रक्रिया शुरू है और छोटे दलों ने दस्तक देनी शुरू कर दी है। यह दोनों सीटें बीजेपी की रही हैं।

आपको बता दें कि इन सीटों पर मतदान राजनितिक दलों के रिहर्सल के तौर पर देखा जा रहा है। वहीँ सीएम योगी के लिए ये एक साख का भी सवाल है।

वहीँ समाजवादी पार्टी इन चुनावों से एक बार फिर यूपी की सत्ता में उठने की कोशिश करेगी। बसपा में मंथन जारी है। मुकाबला जोरों का होना है। वर्ष 2019 कि लडाई यहीं से शुरू होती नजर आ रही इसलिए सभी पार्टियाँ कोई चूक करने से बचना चाहती हैं।

loading...
शेयर करें