सुरक्षित घर पहुचेगी बेटी सरकार बना रही शेरनी नामक टीम, महिला पुलिसकर्मी

गोरखपुर:लडकियों और महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों को रोकने के लिए सरकार ने महिला पुलिस की एक टीम शेरनी बनाई है। यह सब निर्भया योजना के तहत बनाया जा रहा है। जिसके लिए जिला प्रशासन ने केंद्र सरकार को 16 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा है। इस योजना के तहत पुलिस लाइंस में अत्याधुनिक तकनीक से लैस कमांड सेंट बनाया जाएगा। इसे मुख्य जगहों पर लगाया जाएगा।

बता दें कि यह सभी स्कूल-कॉलेज, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, प्रमुख चौराहों समेत सभी सार्वजनिक स्थलों पर पैनिक बटन लगाए जाएंगे। किसी भी घटना की शंका होने पर महिलाओं द्वारा इस बटन को दबाते ही पुलिस टीम कुछ ही मिनट में वहां पहुंच जाएगी।

योजना के तहत महिला पुलिस की एक शेरनी टीम बनाई जाएगी। यह टीम शाम होते ही सक्रिय हो जाएगी और शहर की सुनसान सड़कों पर गश्त शुरू कर देगी। जहां भी कोई युवती अकेले दिखेगी, टीम उसे उसके घर तक सुरक्षित पहुंचाएगी। इसके अलावा दो महिला पेट्रोलिंग यूनिट भी गठित की जाएंगी। ये टीम सभी स्कूल-कॉलेज, कोचिंग सेंटर, पार्क समेत सभी सार्वजनिक स्थलों पर नजर रखेगी।

डीएम के. विजयेंद्र पांडियन ने बताया- कि जैसे ही फंड स्वीकृत होगा योजना पर काम शुरू हो जाएगा। निर्भया योजना के तहत शहर को बेटियों के लिए और सुरक्षित करने के लिए विशेष योजना बनाई गई है। इसके लिए भारत सरकार को 16 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा गया है। पुलिस लाइंस में एक कमांड सेंटर गठित किया जाएगा। सभी सार्वजनिक जगहों पर पैनिक बटन लगाए जाएंगे। एक शेरनी टीम बनेगी जो अकेले जाने वाली महिलाओं को उनके घर तक पहुंचाएगी।

Related Articles

Back to top button