चाइनीज मांझे का शिकार बना युवक, अस्पताल में इलाज

जौनपुर में चाइनीज मांझे से युवक हुआ जख्मी, चिकित्सकों ने लगाए 16 टांके

जौनपुर: उत्तर प्रदेश में जौनपुर जिले के कोतवाली क्षेत्र में चाइनीज मांझा की चपेट में आने से एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। इससे पहले जिले में चाइनीज मांझे की चपेट में आने से कई बच्चों सहित मोटरसाइकिल चालकों की मौतें हो चुकी है।

गंभीर रूप से घायल युवक

पुलिस ने बताया कि पालिटेक्निक चौराहा के पास उद्यान विभाग के सामने एन एच 56 मार्ग पर वाजिदपुर से नईगंज बुलेट मोटर साइकिल से जाते समय सुशील कुमार मौर्य (25) चाइनीज मांझे की चपेट में आने से गम्भीर रूप से घायल हो गये है।

मांझे से उनकी आंखों के पास गम्भीर जख्म हुए हैं। मौर्य को आस पास के लोगों ने आनन फानन में सिद्धार्थ अस्पताल पहुंचाया जहां पर चिकित्सक ने 16 टांका लगा कर उनका उपचार किया।

क्या है चाईनीज मांझा?

चाईनीज मांझे को खास तौर पर तैयार किया जाता है। चाईनीज मांझे को बनाने में कुल पांच प्रकार की केमिकल और अन्य धातुओं का उपयोग किया जाता है। इनमें सीसा, वजरम नामक औद्योगिक गौंद, मैदा फलौर, एल्युमीनियम ऑक्साइड और जिरकोनिया ऑक्साइड का प्रयोग होता है। इन सभी चीजों के मिक्स होने पर तेज धार वाला चाईनीज मांझा तैयार होता है।

यह भी पढ़ेWeather Temperature: दिल्ली में पारा लुढ़का, ‘खराब’ श्रेणी में वायु गुणवत्ता सूचकांक

यह भी पढ़ेअमेरिका के परमाणु सुरक्षा समेत कई महत्वपूर्ण विभागों पर बड़ा साइबर हमला

Related Articles