‘आप’ सरकार के फैसले के खिलाफ छुट्टी पर जाएंगे अधिकारी!

 

AAP_301215

नई दिल्ली। दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार के एक फैसले के खिलाफ दिल्ली अंडमान निकोबार सिविल सर्विस (दानिक्स) अधिकारियों ने 31 दिसम्बर यानी एक दिन की सामूहिक छुट्टी पर जाने का फैसला किया है। गृह  विभाग के दो स्पेशल सेक्रेटरी ने वेतन बढ़ाने की एक फाइल पर साइन करने से मना किया था। जिसके चलते मंगलवार को दिल्ली सरकार में गृह मंत्री सतेंद्र जैन ने दो अधिकारियों सस्पेंड कर दिया था।

इसके बाद दानिक्स एसोसिशन ने बुधवार को बैठक करके नाराजगी जताई साथ ही ये फैसला लिया कि वो 31 दिसंबर को सामूहिक अवकाश लेकर सरकार के प्रति नाराजगी जताएंगे। सतेन्द्र जैन चाहते थे कि  जेल के पब्लिक प्रोस्क्यूटर की सैलरी बढ़ाने के फैसले की फ़ाइल अनुमति के लिए उपराज्यपाल नजीब जंग के पास न भेजी जाए। जबकि ऐसा करना जरूरी है।

इस फैसले से सरकार और उपराज्यपाल के बीच फिर से तकरार बढ़ने के आसार हैं, क्योंकि सीनियर अधिकारियों को सस्पेंड करने का अधिकार सिर्फ उपराज्यपाल को है, जो गृह मंत्रालय की अनुमति मिलने के बाद ही ऐसा कर सकते हैं। दानिक्स एसोसिएशन ने दोनों अधिकारियों को सस्पेंड किए जाने के दिल्ली सरकार के फैसले के खिलाफ केंद्रीय गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिखी है. चिट्ठी में एसोसिएशन ने निलंबन रद्द करने की मांग की है।

नियमों के मुताबिक, सिर्फ राष्ट्रपति को ही इन कर्मचारियों की सैलरी तय करने का अधिकार है। हालांकि उपराज्पाल की सहमति से इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी किया जा सकता है, लेकिन मंत्री ने बिना उपराज्यपाल की अनुमति के ही अधिकारियों पर नोटिफिकेशन में हस्ताक्षर करने का दबाव बनाया। नियमों का हवाला देते हुए अधिकारियों ने हस्ताक्षर करने से इनकार कर दिया क्योंकि खुद उपराज्यपाल ने भी उन्हें हिदायत दे रखी है कि उनकी सहमति के बिना ऐसे किसी भी कागज पर हस्ताक्षर ना किए जाएं। दोनों अधिकारियों को सस्पेंड किए जाने से नाराज दानिक्स एसोसिएशन ने बैठक बुलाई। बैठक में फैसला लिया गया कि सभी अधिकारी गुरुवार को सामूहिक छुट्टी पर जाएंगे। मीटिंग में यह भी तय हुआ कि अधिकारियों को स्वतंत्र रूप से काम करने दिया जाए और उनके काम में बाधा ना डाली जाए। एसोसिएशन ने अधिकारियों से छुट्टी के लिए आवेदन करने को कहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button