आम आदमी पार्टी आज खोलेगी #DDCA पर जेटली की पोल

0

ddca_650_121615113446नई दिल्ली आम आदमी पार्टी आज वित्‍त मंत्री अरुण जेटली की डीडीसीए घोटाले में संलिप्‍तता को लेकर पोल खोलने की तैयारी में है। वहीं जेटली ने अपने ऊपर लगाए गए सभी आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है। आप प्रवक्‍ता का कहना है कि आज लोग जान जाएंगे कि किस तरह से अरुण जेटली संसद में झूठ बोल रहे हैं और कैसे उन्होंने क्रिकेट को कीचड़ बना दिया।

इससे पहले दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री ऑफिस में हुई सीबीआई छापेमारी के बाद अरविंद केजरीवाल ने वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ मोर्चा खोल चुके हैं। आम आदमी पार्टी, कांग्रेस के साथ मिलकर जेटली के इस्‍तीफे की मांग कर रही है।

कांग्रेस ने डीडीसीए की संयुक्त संसदीय समिति से जांच कराने की मांग की। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने पांच अगस्त 2014 का एक पत्र मीडिया को दिखाया, जिसमें डीडीसीए घोटाले की जांच की मांग की गई थी। दूसरी ओर, बीजेपी सांसद कीर्ति आजाद ने ‘आप’ के आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि केजरीवाल के आरोप सही भी साबित हो सकते है।

क्‍या है डीडीसीए घोटाला

– केजरीवाल सरकार ने 12 नवंबर को डीडीसीए में भ्रष्टाचार को लेकर एक 3 सदस्यीय कमिटी का गठन किया।

– जिसने 17 नवंबर को अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंपी।

– 248 पन्नों की उस रिपोर्ट में कमिटी ने कहा कि डीडीसीए में पिछले एक दशक के दौरान करोडों का घोटाला हुआ है और इस मामले की जांच होनी चाहिए।

– रिपोर्ट में कहा गया कि एक बड़ा घोटाला तब हुआ जब फ़िरोज़ शाह कोटला मैदान के रेनोवेशन का काम चल रहा था।

– उस दौरान अलग अलग कंपनियों को कोटला में रेनोवेशन का काम सौंपा गया और ये काम करोड़ों का था।

– करोड़ों रूपये के उस टेंडर को देते वक़्त लाखों करोड़ों का घोटाला हुआ है।

– जो लोग घोटाले में शामिल थे उनके खिलाफ कार्रवाई तक नहीं हुई।

कमिटी ने अपनी रिपोर्ट में जिस दौरान डीडीसीए में घोटाले की बात की है उस दौरान देश के मौजूदा वित्त मंत्री अरुण जेटली डीडीसीए के अध्यक्ष थे।

– अरुण जेटली दिसंबर 1999 से लेकर दिसंबर 2013 तक डीडीसीए के अध्यक्ष पद पर काबिज़ रहे।

– फ़िरोज़ शाह कोटला मैदान के रेनोवशन का पूरा काम उस वक़्त में हुआ जब जेटली डीडीसीए अध्यक्ष थे।

– कमिटी की रिपोर्ट में कहा गया है कि जिस काम पर डीडीसीए ने करोड़ों रूपये खर्च कर दिए उसका कम्पलीशन सर्टिफिकेट आज तक नहीं मिला है।

loading...
शेयर करें