पेट्रोल और डीजल को लेकर आग लगाने की फिराक में आप, बनाई ये योजना

0

नई दिल्ली| देश में इन दिनों सबसे ज्यादा चर्चा ईधन पदार्थों के बढ़ते दामों की है। सभी राजनीतिक पार्टियां इन मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार पर लगातार हमले बोल रही है। इसी क्रम में अब दिल्ली की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने भी इस मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। दरअसल, आप ने गुरुवार को कहा कि वह ईंधन की बढ़ती कीमतों के खिलाफ शुक्रवार से शुरू हो रहे अपने राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत 26 सितम्बर को पेट्रोलियम मंत्रालय का घेराव करेगी।

पार्टी के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने कहा कि वर्ष 2014 में सत्ता में आने के बाद से केंद्र सरकार ने पेट्रोल के उत्पाद शुल्क में 150 प्रतिशत की वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शन पूरे देश में 22 से 30 सितम्बर तक चलेगा। 30 सितम्बर को दशहरा के दिन हम दिल्ली के 272 वार्डो में ‘बढ़ी कीमतों के रावण’ को जलाएंगे।

उन्होंने कहा कि शुक्रवार को दिल्ली के सभी विधायक अपने विधानसभा क्षेत्रों में प्रदर्शन करेंगे और मंगलवार को केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्रालय का घेराव करेंगे।

पेट्रोल पर दिल्ली की केजरीवाल सरकार द्वारा कर कम करने के बारे में पूछे जाने पर राय ने कहा कि दिल्ली में यह कर पहले से ही कम हैं, तुलनात्मक रूप से दिल्ली में पेट्रोल का मूल्य कम है। उन्होंने वित्त मंत्री अरुण जेटली के इस बयान की भी आलोचन की कि ‘केंद्र सरकार पेट्रोल व डीजल पर उत्पाद शुल्क नहीं घटा सकती है और राज्य सरकारों को वैट घटाना चाहिए, अगर वे पेट्रोल व डीजल के मूल्य में कमी करना चाहते हैं।

राय ने आप की मांग को दोहराते हुए कहा कि ईंधन की कीमतों को अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल के मूल्य के साथ जोड़ना चाहिए जिसका मूल्य पिछले तीन वर्षो के दौरान 50 प्रतिशत तक गिरा है।

 

loading...
शेयर करें