‘आशिकी’ फेम एक्टर राहुल रॉय ने बॉलीवुड से ‘दूर’ रहने की बतायी वजह

मुंबई: फिल्म ‘आशिकी’ फेम एक्टर राहुल रॉय जो अपनी बाद की फिल्मों में उतनी सफलता हासिल नहीं कर पाए. कुछ साल बाद वे बॉलीवुड से लगभग गायब हो गए और केवल लोकप्रिय रियलिटी शो बिग बॉस में एक कंटेस्टेंट के रूप में एक बार फिर से नज़र आए और इस शो के विजेता बन गए थे.

एक्टर राहुल रॉय ने सुर्खियों से दूर रहने का कारण बताते हुए कहा, ‘मैं बॉलीवुड से दूर चला गया और वह मेरी पसंद थी. फिल्म इंडस्ट्री का इससे कुछ लेना देना नहीं है. यह एक विशेषाधिकार है या क्या यह एक अभिशाप है कि मैं बॉलीवुड में इसलिए आया क्योंकि मैं एक स्टार या एक एक्टर बनने की कोशिश कर रहा था.’ उन्होंने अपनी बात में एक बात और जोड़ दी और कहा कि एक अलग कारण से उनकी मां ने महेश भट्ट से मुलाकात की थी. इसके बाद उन्हें आशिकी के लिए एप्रोच किया गया था.

जब उनसे पुछा गया कि बॉलीवुड से दूर रहने का विकल्प उन्होंने क्यों चुना, राहुल ने बताया कि 30 साल की उम्र के बाद वे शादी करना चाहते थे. ‘जब सन् 2000 में मॉडल राजलक्ष्मी खानविलकर से शादी की तो मैंने उनसे कहा कि, ’हम बॉलीवुड से ब्रेक लेते हैं और अपनी पर्सनल रिलेशनशिप पर काम करते हैं. एक एक्टर होने के कारण एक्टिंग के साथ-साथ पारिवारिक जिम्मेदारियों को पूरा करना बहुत मुश्किल है क्योंकि बॉलीवुड आपसे बहुत कुछ लेता है. यह बहुत मुश्किल काम है. मैं उन लोगों की सराहना करता हूं जो ऐसा कर सकते हैं, लेकिन मैं ऐसा नहीं कर सकता.’

राहुल ने यह भी स्वीकार किया कि उस समय उनकी फिल्में बहुत अच्छी नहीं चल रही थीं और हालांकि उन्हें नई फिल्मों में काम करने के प्रस्ताव मिल रहे थे. यह अलग बात है कि, इन नई फिल्मों के काम ने उन्हें उत्साहित नहीं किया.

उन्होंने आगे कहा कि, ‘एक एक्टर के रूप में मेरा विकास रुक गया. आप एक ही भूमिका को बार-बार कर रहे हैं, और उस समय में हर किसी की धारणा थी कि यार, इससे वही काम कराते रहो. यह बहुत सारी चीजों का एक कॉम्बिनेशन था.’ राजलक्ष्मी विदेश जाना चाहती थीं, तब राहुल की साल भर का ब्रेक बहुत लंबा हो गया. बीवी के ऑस्ट्रेलिया जाने के बाद उनके लिए बॉलीवुड में करियर जारी रखना मुश्किल हो गया. हालांकि उन्होंने बहुत से लोगों से संपर्क करने और मिलने की कोशिश की, लेकिन कुछ भी काम नहीं आया. उन्होंने यह भी कहा कि वे बॉलीवुड की नई ‘एजेंसी कल्चर’ को कभी समझ नहीं सकते.

2005 में राहुल जब ‘इनसिक्योर’ महसूस कर रहे थे तो उन्होंने ख़ुशी से बिग बॉस का ऑफर स्वीकार कर लिया. जब उन्होंने इसका पहला सीजन जीता, तो उन्हें विश्वास हो गया कि दर्शक अब भी उन्हें देखना चाहते है. इसके बाद उन्होंने कुछ फिल्मों में काम किया जिन्हें बनाने में बहुत समय लगा क्योंकि वे बड़े बजट की फिल्में नहीं थीं. हालांकि, उन्होंने कहा कि उन्हें उन पर गर्व है.

Related Articles