स्वास्थ्य क्षेत्र में योगदान के लिए आचार्य बालकृष्ण को UN में सम्मान

0

पतंजलि संस्थान के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण को यूएनओ की संस्था यूएनएसडीजी  ने विश्व के 10 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में शामिल किया है. शनिवार को उन्हें जेनेवा में यूएनएसडीजी हेल्थकेयर अवॉर्ड से नवाजा गया. उनकी इस उपलब्धि को लेकर योग गुरु बाबा रामदेव ने भी अपनी खुशी जाहिर की है. बाबा रामदेव ने कहा कि कल बालकृष्ण स्विट्जरलैंड के जेनेवा में थे. यहां संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय की तरफ से उन्हें सम्मानित किया गया.

पहली बार यूएनओ की संस्था यूएनएसडीजी की तरफ से स्वास्थ्य क्षेत्र में दुनियाभर के प्रसिद्ध लोगों को सम्मानित किया गया है. इन लोगों ने विश्व स्तर पर स्वास्थ्य क्षेत्र में बहुमूल्य योगदान दिया है. बाबा रामदेव ने आगे कहा, “आचार्य बालकृष्ण को भारत का प्रनिधित्व करने के लिए यूएनएसडीजी हेल्थ द्वारा जेनेवा में आमंत्रित किया गया था.

यहां पतंजलि में योग, आयुर्वेद और पारंपरिक भारतीय तरीकों द्वारा बीमारियों का इलाज करने में पतंजलि के योगदान को सराहा गया. इस योगदान के लिए ही आचार्य बालकृष्ण को सम्मानित किया गया है. हमें गर्व है.”

उन्होंने कहा कि आचार्य बालकृष्ण को यह उपलब्धि आयुर्वेद और योग के क्षेत्र में नए अनुसंधान को बढ़ावा देने के लिए हासिल हुई है. बाबा रामदेव ने कहा कि भारतीय चिकित्सा पद्धति योग व आयुर्वेद को सम्पूर्ण विश्व में पुन: स्थापित किया है. इससे करोड़ों को स्वास्थ्य लाभ हुआ है.

loading...
शेयर करें