Acharya Swami Vivekananda : प्यार काफी नहीं हो सकता है लेकिन प्यार ही सब कुछ है।

Acharya Swami Vivekananda : Astrology

लखनऊ: दिन की शुरुवात में धर्म, धार्मिकता और पूजा-अर्चना से पूर्व आपके मन में सम्पूर्ण दिन की चिंताएं जागृत होती हैं। ऐसे में जरुरी होता है पूरे दिन के लिए कुछ सकारात्मक उर्जा आपको हम दे सकें और नकारात्मक घटनाक्रमों से आपको सावधान कर सकें। तो सुबह की शुरुआत करने से पहले अपनी राशि पर जरूर ध्यान दें आपके लिए इसमें कुछ खास हो सकता है। पूरी दुनिया डॉट कॉम पर आचार्य स्वामी विवेकानन्द जी ( Acharya Swami Vivekananda ) ने सभी राशियों के बारे में बताया है कि आज 25/03/2022 दिन शुक्रवार को आपका दिन कैसा बीतेगा,क्या लाभ होगा और किन चीजों से सावधान रहना है। आज इस राशि के जातक ध्यान दें, कुछ लोग आपके विरोधी बने हुए हैं, उनका ध्यान रखें। आपका बढ़िया काम ही आपको हर समय ऐसे बचा सकता है इसलिए काम पर जरुर ध्यान दें। पढ़ें आज आपका राशिफल क्या कहता है।

।।आप सभी का मंगल हो।।
आज दिनाँक25/03/2022 दिन शुक्रवार का पञ्चाङ्ग
विक्रम संवत:-2078(प्रमादी नामक)
शक संवत:-1944
सूर्य:-उत्तरायण
सूर्योदय:-प्रातः05:57
सूर्यास्त:-शायं 06:03
ऋतु:-बसन्त
माह:-चैत्र
पक्ष:-कृष्ण
तिथि:-अष्टमी
नक्षत्र:-मूल
योग:-वरीयान
करण:- बालव तदुपरान्त कौलव
अमृतमुहूर्त:-प्रातः09:04से 10:35तक
राहूकाल:-प्रातः10:30 से 12:00 तक
दिशाशूल:-पश्चिम
शुभदिशा:-पूर्व
दिशाशूल बचाव:-आज शुक्रवार को जौ या राई खा कर बाहर निकलें आप का मंगल होगा।

।।आज का राशिफल।।
मेष :-
(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)
आज का दिन पिछले दिनो की अपेक्षा बेहतर रहेगा सेहत में सुधार अनुभव करेंगे। प्रातः काल से ही व्यवसाय अथवा किसी आवश्यक घरेलू कार्य में विलंब होने की चिंता रहेगी लेकिन दोपहर बाद सही कार्य स्वतः ही व्यवस्थित होने लगेंगे। कार्य क्षेत्र पर अधिक प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ेगा लेकिन आज आप दिन के आरम्भ में जो भी योजना बनाएंगे उसमे आज सफलता मिल सकेगी। यात्रा से लाभ होगा।
राशिरत्न:-मूँगा

वृष :-
(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ)
आज का दिन आपको मौन रहकर बिताने की सलाह है। किसी को भी बिना मांगे सलाह भूल कर भी ना दें अन्यथा लेने के देने पड़ सकते है। घर का माहौल छोटी सी बात पर उग्र हो सकता है। खास कर पति-पत्नी के बीच झगड़ा होने के प्रबल योग है संतान अथवा अन्य अनैतिक कार्य इसका कारण बनेंगे। कार्य क्षेत्र पर जिस कार्य से लाभ की उम्मीद लगाएंगे उसी में हानि संभव है।सार्वजनिक क्षेत्र पर सम्मान हानि भी हो सकती है। धन लाभ किसी न किसी रूप में अवश्य होगा।
राशिरत्न:-हीरा,या ओपल

मिथुन :-
(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)
आज का दिन आपको मौन रहकर बिताने की सलाह है। किसी को भी बिना मांगे सलाह भूल कर भी ना दें अन्यथा लेने के देने पड़ सकते है। घर का माहौल छोटी सी बात पर उग्र हो सकता है। खास कर पति-पत्नी के बीच झगड़ा होने के प्रबल योग है संतान अथवा अन्य अनैतिक कार्य इसका कारण बनेंगे। कार्य क्षेत्र पर जिस कार्य से लाभ की उम्मीद लगाएंगे उसी में हानि संभव है।सार्वजनिक क्षेत्र पर सम्मान हानि भी हो सकती है। धन लाभ किसी न किसी रूप में अवश्य होगा।

राशिरत्न:-पन्ना

कर्क :-
(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)
आज के दिन आप सुनेंगे सबकी लेकिन करेंगे अपने ही मन की फिर भी आज व्यवसाय से आकस्मिक लाभ होने पर स्थिति बिगड़ने नही पाएगी दिन के आरंभ में जो लोग आपके निर्णयों के विरोध कर रहे थे बाद वे ही समर्थन करते दिखेंगे। घर मे भाई बंधुओ से किसी पुश्तैनी अथवा व्यावसायिक बात को लेकर कहा सुनी हो सकती है। भागीदारी के कार्यो में निवेश से बचे अन्यथा हानि संभव है। इसके विपरीत एकल कार्यो में लाभ आवश्यकता से अधिक ही होगा।
राशिरत्न:-मोती

सिंह :-
(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)
आज व्यापर में उन्नति सम्भव है। मित्रों के सहयोग से किसी भूमि का स्थिर लाभ हो सकता है। पारिवारिक सहयोग से मांगलिक कार्यों के सम्पादन की योजना आज बन सकती है।
धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी।
छोटी यात्रा से मध्यम लाभ सम्भव है।
राशिरत्न:-माणिक्य

कन्या :-
(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)
आज आपका व्यक्तित्त्व निखरा हुआ रहेगा लेकिन स्वभाव में जिद और अकड़ रहने के कारण कोई भी आपसे अपने मन की बात बोलने से कतरायेगा। दिन के आरंभ में आलस्य रहेगा फिर भी मन ही मन नौकरी व्यवसाय संबंधित चिंता लगी रहेगी। कार्य व्यवसाय में पुरानी योजनाओ से धन लाभ होगा लेकिन भाग्य पक्ष कमजोर होने के कारण कुछ ना कुछ कमी अनुभव करेंगे आज नए कार्य अनुबंध भी मिलने की सम्भवना है।
राशिरत्न:-पन्ना
तुला :-
(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
संभव है आज का दिन आपकी सोच के एकदम विपरीत रहेगा सोचेंगे कुछ होगा उसका विपरीत । लाभ की संभावनाए कम फलस्वरूप खर्च निकालने के लिये भी अन्य लोगो का सहयोग लेना पड़ सकता है। शत्रुओ से सचेत रहना हितकर रहेगा।
पारिवारिक सहयोग से मध्यान्ह के उपरांत मध्यम लाभ होगा।
राशिरत्न:-हीरा या ओपल

वृश्चिक :-
(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
आज के दिन आपका मन धार्मिक कार्यों में निवेशित रहेगा।कार्य व्यवसाय से बीते दिनों की तुलना में लाभ में वृद्धि होगी। व्यवसाय में विस्तार के अवसर भी मिलेंगे परन्तु गलत मार्गदर्शन के कारण लाभ के अवसर को खो सकते हैं।
परिवार में बड़े बुजुर्गों से भाई बंधुओ को लेकर वैचारिक मतभेद रहेंगे।
राशिरत्न:-मूँगा

धनु :-
(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)
आज के दिन से आप अपने व्यवसाय से काफी आशाएं लगा कर रहेंगे परन्तु एक समय मे अधिक कार्य करने पर मतिभ्रम की स्थिति बन सकती है। कार्य व्यवसाय सामान्य रहेगा लेकिन आकस्मिक कार्य आने पर उचित समय नही दे पाएंगे अधीनस्थ सहकर्मियों का ऊपर निर्भर रहना पड़ेगा। यात्रा की योजना दिन के आरंभ से ही बनेगी इस पर व्यर्थ खर्च भी करना पड़ेगा।
राशिरत्न:-पुखराज

मकर :-
(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
आज का दिन आर्थिक दृष्टिकोण से निराश करने वाला हो सकता है।क्रोध के कारण संभव है कि आप स्वयं का ही नुकसान कर बैठें। बुद्धि विवेक आज प्रखर रहेगा लेकिन फिर भी धन संबंधित कार्यो में निराशा ही मिलेगी। घर के सदस्यों को छोड़ अन्य मित्र या पड़ोसी अपनी समस्याओं को लेकर आएंगे।
यात्रा सुखद रहेगी।
राशिरत्न:-नीलम

कुंभ :-
(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
आज के दिन अनिर्णय की स्थित किसी भी कार्य को समय पर होने से रोक सकती है। मेहनत करने के पक्ष में आज बिल्कुल नही रहेंगे इसके विपरीत महात्त्वकांक्षाये सामर्थ्य से अधिक रहेंगी। आलस्य प्रमाद में कार्यो को आगे के लिये टालेंगे बाद में सर पर आने पर जो भी निर्णय लेंगे अधिकांश तह जल्दबाजी में ही होंगे जिससे कोई न कोई भूल होगी। काम धंधा सामान्य रहने पर भी अपनी ही गलतियों के कारण जिस लाभ के अधिकारी है उससे वंचित रह सकते हैं।
राशिरत्न:-नीलम

मीन :-
(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)
आज के दिन परिस्थितियां पहले से बेहतर बनेगी। आज आप किसी भी हालत में परिस्थितियों से समझौता करने के पक्ष ने नही रहेंगे चाहे नुकसान ही क्यो ना हो। दिनचर्या कुछ मामलों को छोड़ सुव्यवस्थित रहेगी। काम धंधा भी मध्यान बाद अकस्मात गति पकड़ेगा ।
राशिरत्न:-पुखराज

।।तिथि विशेष।।
आज शीतलाष्टमी व्रत है।
आज कर्णमर्दन , मुक़दमाकार्य, भूमिक्रय शुभमुहूर्त है।

।।इति शुभम्।।
आचार्य स्वामी विवेकानन्द जी
ज्योतिर्विद, वास्तुविद व सरस् सङ्गीतमय श्रीरामकथा व श्रीमद्भागवत कथा व्यास
श्रीधाम श्री अयोध्या जी
संपर्क सूत्र:-9044741252

इसे भी पढ़ें:2022 विस चुनाव से पहले बड़ा बदलाव, UP के नए मुख्य सचिव होंगे ये

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles