IPL
IPL

Acharya Swami Vivekananda: आज इन राशियों का बदलने वाला है समय, मिलेगा रुका हुआ धन

लखनऊ: आज सोमवार 19/04/2021 को आपका दिन कैसा रहेगा ये जानने के लिए आपके मन में अनेको विचार आते होंगे। सुबह की शुरुआत करने से पहले अपनी राशि पर जरूर ध्यान दें आपके लिए इसमें कुछ खास हो सकता है। पूरी दुनिया डॉट कॉम पर आचार्य स्वामी विवेकानन्द जी (Acharya Swami Vivekananda) ने सभी राशियों के बारे में बताया है कि आज सोमवार को क्या लाभ होगा और किन चीजों से सावधान रहना है। दिशा शूल से बचाव के उपाय: सोमवार को दर्पण देख कर या पुष्प सूंघ कर यात्रा करें।

।।आप सभी का मंगल हो।।

आज दिनाँक 19/04/2021 दिन सोमवार का पञ्चाङ्ग

विक्रम संवत्:-2078(आनन्द नाम)

शक संवत:-1943

सूर्य:-उत्तरायण

सूर्योदय:-प्रातः 05:38

सूर्यास्त:-शायं  06:22

ऋतु:-बसंत

माह:-चैत्र

पक्ष:-शुक्ल

तिथि:-सप्तमी

नक्षत्र:-पुनर्वसु

योग:-सुकर्मा

करण:-गर

अमृतमुहूर्त:- प्रातः05:34 से 07:10तक

राहुकाल:-प्रातः07:30 से 09:00 तक

दिशाशूल:-पूर्व

शुभदिशा:-पश्चिम

दिशाशूल बचव:- सोमवार को दर्पण देख कर या पुष्प सूंघ कर यात्रा करें।

           ।।आज का राशिफल।।

 

🐏 मेष :-

आज व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल चलेगा। निवेश शुभ रहेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। विरोध होगा। बेचैनी रहेगी। यात्रा सफल रहेगी। रुका हुआ धन प्राप्त होने के योग हैं। पार्टनरों से मतभेद दूर होंगे। प्रसन्नता में वृद्धि होगी।

राशिरत्न:-मूँगा

🐂 वृष :-

आज सुनियोजित कार्ययोजना फलीभूत होगी। घर-परिवार की चिंता बनी रहेगी। कारोबार से लाभ होगा। कार्यस्थल पर परिवर्तन संभव है। नौकरी में जवाबदारी बढ़ सकती है। घर-बाहर सभी ओर से सफलता प्राप्त होगी। प्रमाद न करें।

राशिरत्न:-हीरा,या ओपल

👫🏻 मिथुन :-

आज राजकीय बाधा दूर होकर लाभ की स्थिति निर्मित होगी। पुराना रोग परेशानी का कारण बन सकता है। पूजा-पाठ में मन लगेगा। किसी संत-महात्मा का आशीर्वाद मिल सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। धन प्राप्ति सुगम होगी। प्रमाद न करें।

राशिरत्न:-पन्ना

🦀 कर्क :-

आज जोखिम व जमानत के कार्य टालें। कारोबार ठीक चलेगा। नौकरी में कलह हो सकती है। निवेश इत्यादि में जल्दबाजी न करें। चोट व दुर्घटना से बचें। शारीरिक हानि हो सकती है। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। आय बनी रहेगी।

राशिरत्न:-मोती

🦁 सिंह :-

आज घर-परिवार के प्रति चिंतित रह सकते हैं। राजकीय सहयोग प्राप्त होगा। लाभ के अवसर अवसर हाथ आएंगे। समय की अनुकूलता का लाभ लें। विवाह के उम्मीदवारों को विवाह का प्रस्ताव मिल सकता है। धन प्राप्ति सुगम होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी।

राशिरत्न:-माणिक्य

🙎🏻‍♀️ कन्या :-

आज आपके शत्रुओं का पराभव होगा। संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। रोजगार में वृद्धि होगी। नए काम मिल सकते हैं। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा। चिंता तथा तनाव में कमी होगी। प्रमाद न करें।

राशिरत्न:-पन्ना

⚖ तुला :-

आज परिवार के सदस्यों तथा मित्रों के साथ समय सुखद व्यतीत होगा। संगीत‍ व चि‍त्रकारी आदि के कार्य सफल तथा पूर्ण होंगे। किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। एकाग्रता बनी रहेगी। अध्ययन में मन लगेगा। धनार्जन होगा।

राशिरत्न:-हीरा,या ओपल

🦂 वृश्चिक :-

आज लेन-देन में जल्दबाजी न करें। लाभ का प्रतिशत कम रहेगा। दूसरों की अपेक्षा बढ़ेगी। बुरी खबर मिल सकती है। दौड़धूप अधिक रहेगी। वाणी में हल्के शब्दों के इस्तेमाल से बचें। नौकरी में कार्यभार रहेगा। स्वास्थ्‍य का पाया कमजोर रहेगा।

राशिरत्न:- मूँगा

🏹 धनु :-

आज रिश्तेदारों तथा मित्रों का सहयोग करने का अवसर प्राप्त होगा। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। कारोबार मनोनुकूल चलेगा। निवेश शुभ रहेगा। मेहनत का फल पूरा-पूरा प्राप्त होगा। पारिवारिक सुख-शांति बनी रहेगी। प्रसन्नता रहेगी।

राशिरत्न:-पुखराज

🐊 मकर :-

आज शरीर के ऊपरी हिस्से में कष्ट संभव है। अच्छी खबर प्राप्त होगी। आत्मसम्मान बना रहेगा। माता के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। खर्च होगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी।

राशिरत्न:-नीलम

🏺 कुंभ :-

आज पारिवारिक मतभेद दूर रहें पुत्रों से सहयोग मिलेगा। यात्रा मनोनुकूल रहेगी। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड लाभ देंगे। भेंट व उपहार की प्राप्ति होगी। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। कष्ट संभव है।

राशिरत्न:-नीलम

🐋 मीन :-

आज निवेश सम्हाल कर करें कानूनी अड़चन आ सकती है। लापरवाही न करें। वाणी पर नियंत्रण रखें। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। अप्रत्याशित बड़े खर्च सामने आएंगे। व्यवस्था में मुश्किल होगी। व्यापार-व्यवसाय की गति धीमी रहेगी। धैर्य रखें।

राशिरत्न:-पुखराज

।।विशेष।।

आज माता के सप्तम रूप माता कालरात्रि का उपासना दिवस है

श्लोक:-

एकवेणी जपाकर्णपूरा नग्ना खरास्थिता, लम्बोष्टी कर्णिकाकर्णी तैलाभ्यक्तशरीरिणी।

वामपादोल्लसल्लोहलताकण्टकभूषणा, वर्धनमूर्धध्वजा कृष्णा कालरात्रिर्भयंकरी॥

।।इति शुभम्।।

आचार्य स्वामी विवेकानन्द

ज्योतिर्विद ,वास्तुविद व सरस् श्रीरामकथा  व श्रीमद्भागवत कथा प्रवक्ता

श्रीधाम श्री अयोध्या जी

संपर्क सूत्र:-9044741252

 

 

Related Articles

Back to top button