गोंडा में देर रात तीन दलित बहनों पर फेंका गया तेजाब, अस्पताल में भर्ती

गोंडा में देर रात तीन दलित बहनों पर फेंका गया तेजाब, अस्पताल में भर्ती

गोंडा: यूपी में लगातार महिलाओं के साथ हो रही अप्रिय घटनायें बढ़ती जा रही हैं। अब गोंडा में तीन दलित बहनों पर तेजाब फेकने का मामला प्रकाश में आया है। ये घटना कल सोमवार देर रात की है। उस दौरान तीनों बहने घर पर सो रही थी। तभी एक युवक ने उनके घर में घुसकर और उनपर तेज़ाब फेका है। घटना को वारदात देकर अपराधी मौके से फरार हो गया। घटना गोंडा के परसपुर के पसका गांव की है।

मिली जानकारी के मुताबिक तीनों बहनें नाबालिग हैं। तेजाब से एक बहन गंभीर रूप से झुलस गई है। उन तीनों का इलाज स्थानीय जिला अस्पताल में चल रहा है। बताया जा रहा है कि तीनों जब घर में सोई थी, तब उनके ऊपर तेजाब फेंका गया। दो बहनें मामूली रूप से घायल हैं, जबकि एक बहन के चेहरे पर एसिड पड़ा है। एक की उम्र 17, दूसरी की 12 और तीसरी बहन की उम्र 8 साल बताई जा रही है। एसिड फेंकने का कारण अभी सामने नहीं आया है।

ये भी पढ़ें : अमौसी एयरपोर्ट पर 13.05 लाख रुपये की पकड़ी गयी विदेशी सिगरेट

बहनों पर तेजाब फेकें जाने के मामले में गोंडा पुलिस कप्तान का बयान –

गोंडा पुलिस कप्तान शैलेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि परसपुर के पासका गांव निवासी तीन बहनों खुशबू (17), कोमल (12) और आंचल (8) पर सोते समय एक दबंग युवक ने हानिकारक केमिकल फेंक दिया जिससे बड़ी बहन गंभीर रूप से झुलस गई जबकि उनकी दो छोटी बहनों पर भी केमिकल के छींटे पड़े। उन्होने बताया कि तीनों पीड़ित बहनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस सिलसिले में मामला दर्ज कर पुलिस आरोपी की तलाश मे जुट गई है। एसिड अटैक के कारणों की जांच की जा रही है। फोरेंसिक टीम, डॉग स्वायड और अन्य इकाइयां जांच मे जुटी हैं।

Related Articles