उत्तर प्रदेश में रंगबाजी क्या होती है के गाने पर वीडियो बनाने वाली महिला सिपाही पर हुई कार्रवाई

आगरा: यूपी के आगरा के थाना एमएम गेट में तैनात प्रशिक्षु महिला सिपाही प्रियंका मिश्रा का बना एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। उन्होंने अपनी कमर में रिवाल्वर भी लगाई हुई है। वो रिवॉल्वर निकालकर एक्शन में डायलॉग बोलती दिख रही हैं। ‘हरियाणा और पंजाब तो बेकार ही बदनाम हैं, आओ कभी उत्तर प्रदेश, रंगबाजी क्या होती है, हम तुम्हें बताते हैं, न गुंडई पर गाना बनाते हैं, न गाड़ी पर जाट गुज्जर लिखाते हैं…’

बस ये मामला एसएसपी मुनिराज तक पहुंचा। फिर सीओ कोतवाली की जांच के बाद महिला सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि विभागीय जांच भी की जा रही है। वीडियो 21 सेकंड का बनाया गया है। यह थाना परिसर में ही बनाया गया है। रिवाल्वर भी सरकारी है। दो सप्ताह पहले महिला सिपाही का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

सीओ कोतवाली अर्चना सिंह ने की जांच

वीडियो के साथ बैकग्राउंड म्यूजिक चल रहा है। इस पर सिपाही एक्शन कर रही हैं। कमर में लगी रिवाल्वर को वह हाथ में लेकर दिखाती हैं। जानकारी पर एसएसपी ने सीओ कोतवाली अर्चना सिंह को जांच दी थी। उन्होंने जांच में पाया कि थाना परिसर में वीडियो बनाया गया। रिवाल्वर भी मालखाने में रखी जाने वाली है। यह कैसे सिपाही तक पहुंची? यह पता नहीं चल सका। महिला सिपाही प्रियंका मिश्रा की पहचान होने पर सीओ ने एसएसपी मुनिराज जी को रिपोर्ट दी। इसके बाद सिपाही को लाइन हाजिर किया गया है।

विभागीय जांच चल रही

सीओ कोतवाली अर्चना सिंह ने बताया कि प्रियंका मिश्रा प्रशिक्षु सिपाही हैं। हाल में उन्हें थाना एमएम गेट में तैनाती मिली है, इस मामले में उनपर विभागीय जांच चल रही है। यह वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर कब अपलोड किया गया है। यह पता नहीं चल सका है।

 

Related Articles