चना चीनी वितरित नहीं करने वाले कोटेदारों पर होगी कार्रवाई

खाद्य आयुक्त मनीष चौहान ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत निःशुल्क गेहूं तथा चावल के साथ-साथ प्रत्येक कार्ड पर एक किग्रा निःशुल्क चने का भी वितरण कराया जा रहा है.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत वितरित होने वाले निःशुल्क खाद्यान्न के साथ-साथ चना और चीनी के वितरण पर पैनी नजर रखने के निर्देश दिये हैं और कहा है कि खाद्यान्न वितरण में अनियमितिता बरतने वाले कोटेदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी.

खाद्य आयुक्त मनीष चौहान ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत निःशुल्क गेहूं तथा चावल के साथ-साथ प्रत्येक कार्ड पर एक किग्रा निःशुल्क चने का भी वितरण कराया जा रहा है. वितरण चक्र में, प्रत्येक अन्त्योदय कार्ड धारक को तीन किलो प्रति कार्ड की दर से 54 रूपये में तीन माह (अक्टूबर, नवम्बर एवं दिसम्बर) की चीनी का एक साथ वितरण कराया जा रहा है.

उन्होने बताया कि संयुक्त आयुक्त (खाद्य) कानपुर मण्डल द्वारा लखनऊ मण्डल के तहत हरदोई, संयुक्त आयुक्त (खाद्य) गोरखपुर मण्डल द्वारा बस्ती मण्डल के तहत सिद्धार्थनगर, संयुक्त आयुक्त (खाद्य) मेरठ द्वारा सहारनपुर मण्डल के तहत मुज़फ्फरनगर, संयुक्त आयुक्त (खाद्य) प्रयागराज मण्डल द्वारा मिर्जापुर मण्डल के तहत मिर्जापुर, संयुक्त आयुक्त (खाद्य) लखनऊ द्वारा कानपुर मण्डल के तहत, कानपुर नगर, उपायुक्त (खाद्य) अलीगढ़ मण्डल द्वारा आगरा मण्डल के तहत आगरा, उपायुक्त (खाद्य) बरेली मण्डल द्वारा मुरादाबाद मण्डल के तहत बिजनौर, उपायुक्त (खाद्य) मुरादाबाद मण्डल द्वारा बरेली मण्डल के तहत पीलीभीत का निरीक्षण करने के लिये आवंटित किया गया है.

इसके अतिरिक्त उपायुक्त (खाद्य) चित्रकूटधाम मण्डल बांदा द्वारा झांसी मण्डल के तहत जालौन, उपायुक्त (खाद्य) झांसी मण्डल द्वारा चित्रकूट मण्डल के तहत चित्रकूट, उपायुक्त (खाद्य) अयोध्या मण्डल द्वारा देवीपाटन मण्डल के तहत बहराइच, उपायुक्त (खाद्य) वाराणसी/मिर्जापुर मण्डल द्वारा आजमगढ़/प्रयागराज मण्डल के तहत मऊ/प्रतापगढ़, उपायुक्त (खाद्य) आजमगढ़ मण्डल द्वारा वाराणसी मण्डल के तहत वाराणसी, उपायुक्त (खाद्य) आगरा मण्डल द्वारा अलीगढ़ मण्डल के तहत अलीगढ़, उपायुक्त (खाद्य) बस्ती मण्डल द्वारा गोरखपुर मण्डल के तहत गोरखपुर, उपायुक्त (खाद्य) देवीपाटन मण्डल गोण्डा द्वारा अयोध्या मण्डल के तहत सुल्तानपुर तथा उपायुक्त (खाद्य) सहारनपुर मण्डल को मेरठ मण्डल के तहत जनपद मेरठ का निरीक्षण करने के लिये आवंटित किया गया है.

खाद्य आयुक्त ने बताया कि प्रत्येक संयुक्त आयुक्त/उपायुक्त (खाद्य) द्वारा, अपने मण्डल में तैनात 02 क्षेत्रीय खाद्य अधिकारियों तथा 02 पूर्ति निरीक्षकों को जांच टीम में सम्मिलित करते हुए, आवंटित जिलों में 28 से 30 अक्टूबर तक जांच की कार्यवाही सम्पन्न की जायेगी.

उन्होंने बताया कि गठित टीमों द्वारा निःशुल्क वितरित किये जाने वाले खाद्यान्न के साथ, विशेष तौर पर चना तथा चीनी के वितरण की जांच की जायेगी. इसके अलावा टीमों द्वारा उन्हें आवंटित जिलों में स्थित, कम से कम 05 उचित दर दुकानों की जांच की जायेगी, जिसमें सम्बन्धित दुकान में हुए वितरण के सापेक्ष कम से कम 60 प्रतिशत कार्डधारकों से सम्पर्क कर, वितरण के सम्बन्ध में पूछताछ की जायेगी.

मनीष चैहान ने बताया कि जांच के दौरान, किसी विक्रेता द्वारा गेहूॅ, चावल, चीनी तथा चने के वितरण में अनियमितता किये जाने की स्थिति पायी जाती है तो, सम्बन्धित जिलाधिकारी के माध्यम से, विक्रेता पर कठोर विभागीय/वैधानिक कार्यवाही सुनिश्चित कराई जायेगी.

यह भी पढ़े: पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने आदिवासी समेत हर वर्ग का शाेषण किया: हेमंत

Related Articles

Back to top button