IPL
IPL

जेल से रिहा होने के बाद एक्टिविस्ट नौदीप कौर ने पुलिस पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

नई दिल्ली : पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने ट्रेड यूनियन कार्यकर्ता नोदीप कौर (Nodeep kaur) को शुक्रवार को जमानत दे दी। जिसके बाद उन्हे करनाल जेल से रिहा कर दिया गया। हरियाणा के कुंडली में किसानों के विरोध प्रदर्शनों में भाग लेने के बाद 12  जनवरी को 23 वर्षीय कार्यकर्ता नौदीप कौर को गिरफ्तार किया गया था।

निचली अदालत में उनके खिलाफ दायर तीन मामलों में से दो में उन्हें जमानत पहले ही दे दी गई थी और आज उन्हें तीसरे मामले में भी पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय से जमानत मिल गई है। जेल से रिहा होने के बाद उन्होंने कहा कि मैं किसानों और मजदूरों के समर्थन में सिंघू  बॉर्डर पर जाऊंगी और उनके अधिकारों के लिए लड़ूंगी।

सोनीपत पुलिस पर लगाई गंभीर आरोप

एक्टिविस्ट नौदीप कौर (Activist Naudip Kaur) ने कहा कि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है और न ही कभी करूंगी। किसानों, मजदूरों और महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़ाई हमेशा जारी रहेगी और मैं उनके साथ खड़ा रहूंगी।

नौदीप के साथ गिरफ्तार शिवकुमार पर बोलते हुए उनोने कहा कि उन्हें अभी तक जमानत नहीं दी गई है, साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि दोनों को सोनीपत पुलिस (Sonipat Police) ने प्रताड़ित किया था। नौदीप ने उन सभी लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया, जिन्होंने उनका समर्थन किया।

इसे भी पढ़े: Reliance Jio ने लांच किया धांसू प्लान, अब हर महीने रिचार्ज कराने का झंझट खत्म

बता दें कि नोदीप कौर (Nodeep kaur) पंजाब के मुक्तसर की रहने वाली हैं। उन्हें 12 जनवरी को हरियाणा की सोनीपत पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया था, जब वह दिल्ली – हरियाणा बॉर्डर पर कुंडली में श्रमिकों के एक विरोध प्रदर्शन में शामिल हुई थी।

Related Articles

Back to top button