एक्टर अनुपम खेर ने ‘टॉक टू ए मुस्लिम’ अभियान को कहा ‘बेहूदा’

मुंबई। अभिनेता अनुपम खेर ने सोशल मीडिया पर चले रहे ‘टॉक टू ए मुस्लिम’ अभियान की निंदा करते हुए इसे बेहूदा बताया है। अनुपम शुक्रवार को यहां केंद्रीय औद्योगिकी सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की स्वर्ण जयंती वर्ष पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में मीडिया को संबोधित कर रहे थे।

ट्विटर पर ‘हैश टॉक टू ए मुस्लिम’ अभियान पर उपयोगकर्ता कमेंट कर रहे हैं। स्वरा भास्कर और गौहर खान जैसी शख्शियतों ने भी इस पर अपने विचार व्यक्त किए हैं।अनुपम खेर ने अभियान पर कहा, “मैं एक ऐसे परिवार से आया हूं जिसने कभी यह नहीं सिखाया कि दूसरे धर्म होते हैं। हम सभी धर्मो का सम्मान करते हैं और यह एक बेहूदा अभियान है।”

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि इस अभियान में मुस्लिमों को छोटा बताया है, जो मेरे हिसाब से शर्मनाक है। हमें किसी की धार्मिक भावनाओं को नहीं दुखाना चाहिए। आज कोई अभियान चलाना वास्तव में बहुत आसान हो गया है। प्रतिदिन सोशल मीडिया पर कोई ना कोई अभियान ट्रेंड करने लगता है। मुझे लगता है कि कुशलता से काम करते हुए हमें चलन शुरू करना चाहिए। हर किसी के खून और जीवन में ‘आई एम अ इंडियन’ अभियान चलना चाहिए।”

अनुपम ने सीआईएसएफ कर्मियों के साथ राष्ट्रगान गाया।उन्होंने कहा, “मैं वर्दी पहनने वाले लोगों के प्रति हमेशा ही खुद को भावुक और गौरवान्वित महसूस करता हूं। शिमला में बीते अपने बचपन के दिनों की याद ताजा करते हुए उन्होंने बताया कि वहां पश्चिमी कमान का मुख्यालय था, वहां ‘जय हिंद’ या राष्ट्र गान गाना स्वाभाविक था।

उन्होंने कहा, “हाल ही में एथलीट हिमा दास भी स्वर्ण पदक जीतने के बाद तब रोने लगी थीं जब पुरस्कार समारोह में अपना राष्ट्र गान चल रहा था। इसलिए जब आप तिरंगा झंडा देखें और पाश्र्व में राष्ट्रगान चल रहा हो तो आपके रोंगते खड़े होना स्वाभाविक है।”

Related Articles