आग में जल रहा अफगानिस्तान, भारत के इस नेता ने सेकी तालिबानी रोटी, दी बधाई

लखनऊ: अफगानिस्तान में रविवार 15 अगस्त को तालिबान ने अपना कब्जा जमा लिया तो देश दुनियाभर के नेता अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दें रहे हैं। लेकिन इस बीच दुनियाभर में कई अजीबोगरीब लोग भी रहते है। अफगानिस्तान में तालिबानी कब्जे से तालिबान की इस हरकत पर भारत देश काफी नाराज है तो वहीं देश में ही कुछ ऐसे भी नेता हैं जो तालिबान को शुभकामनाएं दे रहे हैं।

पीस पार्टी के नेता शादाब चौहान एक ट्वीट कर विवादों में आ गए हैं। चौहान ने ट्वीट करके अफगानिस्तान में हुकूमत जमाने पर तालिबान को शुभकामनाएं दी और इस कृत्य को सही ठहराया। तालिबान ने शांतिपूर्ण तरीके से सत्ता को हासिल किया। उम्मीद है कि वह एहकाम ए इलाही निजाम ए मुस्तफा का राज कायम करेंगे और किसी भी नागरिक के साथ भेदभाव नहीं होगा। सभी को न्याय मिलेगा, हम शांति और न्याय के पक्षधर हैं।

आलोचना के बाद

इस ट्वीट के बाद जब चौहान विवादों में आ गए तो और यूजर्स ने आलोचना शुरू की तो अपना ट्वीट हटा दिया। इससे पहले सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने तालिबानों को फ्रीडम फाइटर कहा।

भड़के ट्वीटर यूजर

चौहान के इस ट्वीट के बाद कई यूजर्स भड़क गए और लताड़ लगाई। इसके बाद उन्होंने ट्वीट करके सफाई दी। उन्होंने लिखा कि, हमारे ट्वीट को गलत तरीके से ट्विस्ट करने वालों से सिर्फ इतना कहेंगे हमारा लक्ष्य पड़ोस में भी शांति कायम रहे एवं भारत की प्रगति में हम अपना सहयोग दे सकें क्योंकि अशांति और अन्याय से प्रगति का रास्ता रुकता है। भारत में हम ऐसी सरकार चाहते हैं जो संपूर्ण मानवता से भेदभाव ना करती हो।

चले जाओ अफगानिस्तान

उनके सफाई देने के बाद कुछ यूजर्स ने उन्हें अफगानिस्तान जाने की सलाह भी दे डाली। कुछ लोगों ने उन्हें भला बुरा कहने के साथ ही शर्म करने और देश छोड़कर हमेशा के लिए अफगानिस्तान बस जाने को भी कहा।

 

Related Articles