आखिर क्या है लौंगलता और मलइयो, जिसका जिक्र आज PM मोदी ने किया, आप भी जानिए

वाराणसी के करखियांव में PM मोदी ने अपने भाषण में बनारस की चर्चित मिठाइयों का जिक्र कर बनारसी जायके की देश को याद दिला दी है

वाराणसी में PM मोदी ने अपने भाषण में बनारस की चर्चित मिठाइयों का जिक्र कर बनारसी जायके की देश को याद दिला दी है. अब वाराणसी की इन खास मिठाइयों और पेय को लेकर भी चर्चा शुरू हो गई है. लोगों में इस बात की भी चर्चा है कि लस्‍सी और रसगुल्‍ला तो ठीक है लेकिन यह लौंगलता और मलइयो भला क्‍या चीज है? जी हां, बनारस की खास मिठाई लौंगलता और मलइयो अपनी अलग ही विशेषता रखते हैं.

ओस की बूंदों से तैयार होती है ये मिठाई

बनारसी साड़ी और बनारस का पान तो दुनियाभर में लोकप्रिय है लेकिन क्या आपने कभी बनारस की इस खास मिठाई के बारे में सुना है. हम बात कर रहे हैं बनारस में बनने वाली एक खास मिठाई की जो ओस की बूंदों से तैयार की जाती है. ये इतनी लजीज होती है कि देखते ही आप खुद को कंट्रोल नही कर पाएंगे. बनारस की ये खास मिठाई है ‘बनारसी मलाइयों’. इस मिठाई की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसे बनाने में ओस की बूंदों का उपयोग किया जाता है. दिलचस्प बात यह है कि यह मिठाई केवल सर्दी के तीन महीनों में ही बनाई जाती है.

लौंगलता एक पारंपरित मिठाई

लौंगलता एक पारंपरित मिठाई है। यह बहुत ही कम समय में बनकर तैयार होता है. इसमें मैदा, खोवा के साथ ही लौंग का प्रयोग किया जाता है. कुछ लोग इसे ‘लौंग लतिका’ भी कहते हैं. बनारस की हर दुकान पर ये करीने से सजी हुई रखी रहती है. जो काशी आता है, वो एक बार इसका स्वाद जरूर चखता है.

 

यह भी पढ़ें- प्रभु श्रीराम के नाम पर अयोध्या में जमीन घोटाला, घोटाले में मानन‍ियों के नाम पर CM योगी की सख्ती, दिए ये निर्देश

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles