आखिर क्यों इस शख्स ने पाकिस्तानी जासूस को दे दिए देश के secret documents?

नई दिल्ली : आर्मी के सीक्रेट डाक्यूमेंट्स पाकिस्तान को देने के आरोप में शुक्रवार को रेलवे की डाक सर्विस के एक अधिकारी को गिरफ़्तार कर लिया गया है। आरोप है कि उसने एक पाकिस्तानी एजेंट को secret documents दिए हैं।

इन secret documents में मिलिट्री  की कई अहम् जानकारियां थीं

इस कड़ी में जानकारों के मुताबिक जांच टीम ने आरोपी से पूछताछ शुरू कर दी है, और इस मामले के तह तक जाने की कोशिश में लगी है। इस आरोपी की पहचान भरत भावरी नाम के रूप में हुई है। खबर के मुताबिक इसे Honey Trap का मामला बताया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक आरोपी की महिला से फेसबुक पर मुलाकात हुई थी। चैटिंग से शुरू हुई बात इश्क तक पहुँच गए। और इश्क भी ऐसा की आरोपी को देश से ग़द्दारी करते हुए शर्म भी नहीं आई।

इस महिला ने आरोपी को बताया था कि वह पोर्ट ब्लेयर की रहने वाली है और इस समय एमबीबीएस की पढ़ाई पढ़ रही है।  जैसे-जैसे उनकी बातचीत बढ़ती गई तो उसके पाकिस्तानी महिला ने धीरे-धीरे भारतीय सेना से संबंधित फोटो आरोपी अधिकारी से मांगना शुरू कर दिया। इस कड़ी में पुलिस के मुताबिक इस मामले में अधिकारिक गोपनीयता अधिनियम 1923 के तहत केस दर्ज़ किया गया है।

यह भी पढ़ें : क्या सच में पाकिस्तान के हाथ लगा है अफगानिस्तान का secret data !

Related Articles