कोरोना काल के बाद छोटे बच्चें करेंगे पढ़ाई, 10 फरवरी से खुलेंगे स्कूल

लखनऊ: स्कूल संचालकों और छात्रों के लिए अच्छी खबर है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना काल (COVID-19) के बाद विद्यालय खोलने का ऐलान कर दिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद बेसिक शिक्षा विभाग ने यूपी में 10 फरवरी से 6-8 तक के स्कूलों को खोलने का ऐलान कर दिया है। वहीं 1 मार्च से कक्षा एक से पांचवी तक के प्राइमरी स्कूल खुलेंगे। कोरोना महामारी (COVID-19) के बाद केंद्र सरकार ने गाइडलाइन जारी किया था इसी के आधार सीएम योगी ने यूपी में कक्षा छह से आठ तक की पढ़ाई फिर शुरू कराने का आदेश दिया है।

11 महीने से बंद पड़े स्कूल एक बार फिर छोटे बच्चों के लिए खोले जाएंगे और गाइडलाइन के अनुसार पढ़ाई होगी। बेसिक शिक्षा विभाग ने 15 फरवरी से कक्षा छह से आठवीं तक के स्कूलों को खोलने का प्रस्ताव अपर मुख्य सचिव बेसिक रेणुका कुमार और बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी को अनुमोदन के लिए भेजा इसके बाद अंतिम मंजूरी के लिए सीएम योगी को प्रस्ताव भेजा गया था। इस प्रस्ताव में एक मार्च से कक्षा 1 से पांचवी तक के स्कूलो को खोलने का प्रस्ताव भी शामिल था।

ये भी पढ़ें : परिणीति चोपड़ा की नई फिल्म, इस प्लेटफार्म पर रिलीज हुआ Trailer

देश भर में कोरोना महामारी के कहर की वजह से बच्चों की पढ़ाई का काफी नुकसान हुआ है। यूपी के कई सरकारी प्राइमरी स्कूलों में पढ़ाई करने वाले बच्चें ऑनलाइन पढ़ाई नहीं कर सके है। 11 महीने से बंद पड़े स्कूलों के बाद अब छात्रों और शिक्षकों के लिए यह बड़ी खुशखबरी है। सीए योगी ने पढ़ाई शुरू करने से पहले अधिकारियों को कोरोना संक्रमण की स्थिति का आंकलन करने के निर्देश दिए थे।

ये भी पढ़ें : 17 साल बाद गांव आया सेना का जवान, लोगों ने ऐसे किया स्वागत

Related Articles

Back to top button