सुशांत की मौत के बाद,भड़के फरहान अख्तर बोले की सर्कस बना दिया… 

नई दिल्ली:सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद फिल्म इंडस्ट्री में मानसिक स्वास्थ्य और नेपोटिज्म को लेकर बहस छिड़ गई है. जहां एक तरफ, दीपिका पादुकोण मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बात कर रही हैं, जबकि अभय देओल, रवीना टंडन, विवेक ओबेरॉय से लेकर मनोज बाजपेयी सहित कई स्टार्स नेपोटिज्म और इनसाइडर्स-आउटसाइडर्स की बहस में पड़े हुए हैं. अब एक बार फिर फरहान अख्तर सुशांत सिंह की मौत और बॉलीवुड के व्यवहार पर बात की है. फरहान अख्तर ने हाल ही में एक इंटरव्यू में सुशांत सिंह राजपूत की मौत को इस वक्त की सबसे त्रासदी बताया और कहा कि यह भारतीय फिल्म जगत की अपूर्णनीयक्षति है. उन्होंने सुशांत की मौत की वजहों पर लोगों की अलग-अलग थ्योरी और सुशांत के परिवार के साथ हो रहे व्यवहार पर भी उन्होंने नाराजगी भी जताई. जो लोगा दावा कर रहे हैं कि वह सुशांत सिंह के बारे में सब जानते हैं फरहान ने उन पर भी निशाना साधा.

फरहान ने कहा,’सब लोगों अचानक से पता चला कि उसकी(सुशांत सिंह) क्या सोच थी, उसकी जर्नी और उसके बारे में सबकुछ. क्या यह एक सर्कस है. दयालु बनें, अधिक समावेशी बनो, जागरूक बनो, बाहर तक पहुंचो, लेकिन इस वक्त सभी लोगों को या तो तलवार निकालनी है या ढाल पकड़नी है.

यह बहुत ही घिनौना है. हमें सुशांत के अच्छे काम और प्रतिभा के लिए उन्हें याद रखना चाहिए, इस तथ्य पर शोक करना चाहिए कि हमने किसी ऐसे शख्स को खो दिया जिसके पास बहुत क्षमताएं थीं. बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई स्थित अपने घर में आत्महत्या कर ली थी. पुलिस का कहना है कि वह पिछले छह महीने से डिप्रेशन में चल रहे थे. सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया कि उनकी मौत फांसी की वजह से दम घुटने से हुई थी.

Related Articles