जिसका डर था वही हुआ – इससे बुरी खबर मोदी सरकार के लिए और कुछ नहीं हो सकती

0

नई दिल्ली। बीते दिनों यूपी के गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में करारी शिकस्त झेलने वाली केंद्र की सत्तारूढ़ मोदी सरकार संकट में घिरती नजर आ रही है। दरअसल, भाजपा सरकार को इनदिनों अपनों के ही वार का सामना करना पड़ रहा है। एक तरफ जहां एक के बाद एक सहयोगी पार्टियां राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का साथ छोड़ रही हैं। मोदी सरकार से खुद को अलग करने वाली आंध्र प्रदेश की सत्तारूढ़ तेदेपा राज्य में विपक्ष की भूमिका निभाने वाली वाईएसआर कांग्रेस के साथ मिलकर लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी में हैं। वहीं, अब मोदी सरकार को एक और झटका लगा है।

यह भी पढ़ें : मोदी के सभी सहयोगी हो रहें दूर, लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव का मोदी सरकार पर क्या पड़ेगा असर?

अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी

उपचुनाव के नतीजे 2019 के चुनाव के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के बेटे और लोकजनशक्ति पार्टी के सांसद चिराग पासवान ने कहा कि उपचुनाव के नतीजे 2019 के चुनाव के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं, खतरे की घंटी हैं। अभी भी समय है, गठबंधन के साथी दलों से सलाह-मशविरा के बाद ही फैसले लिए जाएं। उन्होंने कहा कि बीजेपी को अपने सहयोगियों के साथ मिलकर इन उपचुनावों पर चिंतन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी के पल-पल की जानकारी रखता था ये युवक, सोशल मीडिया पर वायरल किया पूरा वाराणसी दौरा

चिराग पासवान ने आगे क्या कहा

चिराग ने कहा कि जो नाराज़ सहयोगी हैं, उनकी नाराज़गी को दूर करना चाहिए, नहीं तो 2019 में दिक्कत आएगी। वहीं, इसके अलावा अकाली दल के सांसद नरेश गुजराल ने कहा कि ये बात ध्यान में रखनी चाहिए की 2019 में किसी एक की दल की पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं बनेगी। गुजराल ने बताया कि  वो टीडीपी की  मांग आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाए, उससे सहमत हैं।

तेदेपा ला रही है अविश्वास प्रस्ताव

दूसरी तरफ बता दें, तेदेपा द्वारा लाए जा रहे अविश्वास प्रस्ताव से मोदी सरकार पर कोई खतरा नहीं दिख रहा है, लेकिन भविष्वा किसी ने नहीं देखा है। आपको बता दें कि लोकसभा में फिलहाल भाजपा के पास अकेले 273 सांसद हैं। लोकसभा में फुल बेंच की स्थिति में भी बहुमत के लिए 272 सांसदों का आंकड़ा होना चाहिए। ऐसी स्थिति में भाजपा अकेले दम पर ही बहुमत साबित कर जाएगी।

loading...
शेयर करें